अब हवाई जहाज में सफर करना हुआ और भी महंगा

हवाई जहाज में सफर करना हुआ महंगा

 हवाई जहाज

गैस कनेक्शन की किमतों में बढ़ोतरी के बाद अब घरेलू एयरलाइंस कंपनी स्पाइसजेट ने अपने हवाई जहाज सफर किराया भी महंगा कर दिया है. आपको बता दें, एयरलाइंस ने ये फैसला एटीएफ के दामों में बढ़ोतरी के बाद लिया है. स्पाईसजेट के चेयरमैन और एमडी अजय सिंह ने कहा है कि महंगे एटीएफ और डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट के चलते हवाई किराया महंगा करने के अलावा उनके पास कोई विकल्प नहीं बचा है.

15% तक किया इजाफा

सफर करना हुआ महंगा

दरअसल, हवाई ईंधन जिसे एविएशन टर्बाइन फ्यूल (ATF) कहते हैं के इसके दाम में 16 जून यानि आज से इजाफा चुका है. वहीं, एटीएफ के दाम में आज 16.3 फीसदी की बढ़ोतरी हो गए है. इसमें 1.41 रुपये प्रति किलोलीटर यानी 123.03 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है. एटीएफ की कीमतों में एकसाथ ही 16.3 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद ये अब तक के सबसे उच्च स्तर पर आ गए हैं.

आम आदमी के लिए महंगाई की मार

महंगाई की मार

आपकी जानकारी के लिए बता दें, दिल्ली में एटीएफ के रेट बढ़कर आज से 141232.87 रुपये प्रति किलोलीटर पर आ गए हैं और दिल्ली के लिए ये बड़ी बढ़ोतरी है. एयरलाइंस की कुल लागत में करीब 40 फीसदी हिस्सा एटीएफ का होता है और इसके बढ़ने से एयरलाइंस की लागत भी बढ़ती हैं. इस साल जेट फ्यूल या एटीएफ अपने अभी तक के रिकॉर्ड लेवल पर आ गई हैं. 1 जून को छोड़कर साल 2022 के हरेक पाक्षिक यानी हर 15वें दिन में जेट फ्यूल में इजाफा ही हुआ है. ये आम आदमी के लिए महंगाई की मार है.

                                                                                             

SCI Junior Court Assistant JCA Online Form 2022