आंध्र सरकार का 2024 तक 11 लाख करोड़ का कर्ज : नायडू

विजयवाड़ा, 05 मई  तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) सुप्रीमो एवं अविभाजित आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन
चंद्रबाबू नायडू ने गुरुवार को लोगों को आगाह किया कि जिस तरह से जगन मोहन रेड्डी नीत वाईएसआर कांग्रेस

पार्टी की सरकार बड़े पैमाने पर ऋण ले रही है उससे 2024 तक राज्य पर कुल 11 लाख करोड़ का कर्ज चढ़
जाएगा।

श्री नायडू ने कहा, “उन्होंने (श्री जगन रेड्डी ने) सिर्फ तीन वर्षों में आठ लाख करोड़ रुपये का कर्ज लिया है। वह
अगले दो वर्षों में और तीन लाख करोड़ ऋण लेना सुनिश्चित कर सकते हैं।

यह सारा कर्ज कौन चुकाएगा?
आखिरकार, राज्य का हर परिवार को इस बोझ को साझा करना होगा।”

तेदेपा प्रमुख ने विशाखापत्तनम में पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी
हमेशा विकास के लिए खड़ी रहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी पहले ही साबित कर

चुके हैं कि उनकी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी राज्य को कितना नुकसान पहुंचा सकती है। उन्होंने कहा कि यदि उनकी
पार्टी सत्ता में आती है तो राज्य को फिर से खुशहाली के राह पर ले जाएगी।

विपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि श्री जगन मोहन रेड्डी ‘राजनीतिक मनोविकारों’ के साथ शासन लाए जिसे
केवल टीडीपी द्वारा ही समाप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि

वाईएसआरसीपी सरकार ने हर गांव में मनोविकार और गुंडे पैदा किए थे।

इन संगठित अपराधियों का दमन करने
के लिए सभी ग्रामवासियों को एक होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि तेदेपा के पास गुटों, आतंकवादियों और सांप्रदायिक
ताकतों को दबाने का पिछला रिकॉर्ड रहा है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने वाईएसआरसीपी पर सिर्फ तीन वर्षों में विनाश लाने का आरोप लगाया। झूठे मुकदमों और
गिरफ्तारी से तेदेपा को क्यों डरना चाहिए?

स्वतंत्रता सेनानियों को फंसाया गया और जेल में डाल दिया गया। अब,
पार्टी के नेताओं और आम जनता को लोकतंत्र की रक्षा के लिए लड़ने के लिए फंसाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *