आतंकी (IS) का गिरफ्तार ,रसत्ताधारी दल के बड़े नेता निशाने पर थे

IS के एक सदस्य की को गिरफ्तार

आतंकी (IS) का गिरफ्तार ,रसत्ताधारी दल के बड़े नेता निशाने पर थे

आतंकी के फिदायीन को गिरफ्तार किया है। रूसी सुरक्षा एजेंसियों ने ये गिरफ्तारी की है। एजेंसियों ने दावा किया है कि सुसाइड बॉम्बर भारत में धमाके की साजिश रच रहा था। उसके निशाने पर सत्ताधारी दल के नेता थे। रूस की फेडरल सिक्योरिटी सर्विस (FSB) ने प्रतिबंधित IS के एक सदस्य की को गिरफ्तार किया है। वह सेंट्रल एशियाई देश का मूल निवासी है।

ISIS  को तुर्की में आत्मघाती हमलावर के रूप में भर्ती किया था। उसे भारत में आतंकी हमला करने के लिए रूस छोड़कर जाने के आदेश दिए गए थे।भारत में आत्मघाती हमले की साजिश रच रहा था. दरअसल आतंकी मध्य एशिया का रहने वाला था और उसे सुरक्षा एजेंसी ने गिरफ्तार किया है. उसके बारे में बताया गया है कि उसने तुर्की में आतंकी हमले की ट्रेनिंग ली है.

रूस की फेडरेल सिक्योरिटी सर्विस (एफएसबी) ने बताया है कि हमलावर भारत में सत्ताधारी दल के एक बड़े नेता पर हमला करने की योजना बना रहा था, क्योंकि वह इसके जरिए पैगंबर के अपमान का बदला लेना चाहता था.आतंकी संगठन ने कहा था कि वह भारत में 20 दिन के भीतर दो हमले करेगा. वीडियो में कहा गया था

तालिबान हिंदुओं को इस्लामिक स्टेट से नहीं बचा पाएगा, क्योंकि वो शिया मुसलमानों को बचाने में भी नाकाम रहा है.अलावा ऐसी ही धमकी अल-कायदा की तरफ से भी मिली थी. तब उसने कहा था कि गुजरात, उत्तर प्रदेश, मुंबई और दिल्ली में पैगंबर मोहम्मद की गरिमा की लड़ाई के लिए आत्मघाती हमला करेगा.    कंगना का नाम नॉमिनेशनसे हटाया ,आरोपों पर फिल्मफेयर का रिएक्शन

इराक और सीरिया के हिस्से पर इस आतंकी संगठन का कब्जा

आतंकी (IS) का गिरफ्तार ,रसत्ताधारी दल के बड़े नेता निशाने पर थे

आतंकी धमकियों पर गृह मंत्रालय ने कहा कि आईएस अपनी विचारधारा को प्रचारित करने के लिए विभिन्न इंटरनेट आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहा है. इस संबंध में संबंधित एजेंसियों द्वारा साइबरस्पेस पर कड़ी नजर रखी जा रही है और कानून के अनुसार कार्रवाई की जा रही है.आतंकी और अमीर आतंकी संगठन माना जाता है.

बजट दो अरब डॉलर का बताया जाता है. 2014 में इसने अपने मुखिया अबु बक्र अल बगदादी को दुनिया के सभी मुसलमानों का खलीफा घोषित किया था. इराक और सीरिया के बड़े हिस्से पर इस आतंकी संगठन का कब्जा माना जाता है. इन जगहों पर आतंकी संगठन पुराना इस्लामी कानून चलाता है.

भारत में सत्ताधारी खेमे में से एक प्रतिनिधि को आत्मघाती धमाके से उड़ाने की योजना बनाई थी. बयान में यह भी कहा गया कि दबोचे गए  आतंकी को अप्रैल-जून में दाएश नेतृत्व में से किसी के द्वारा आत्मघाती हमलावर के तौर पर तुर्की में भर्ती किया गया था.

आतंकी संगठन आईएसआईएस का एक आतंकी पकड़ा

आतंकी (IS) का गिरफ्तार ,रसत्ताधारी दल के बड़े नेता निशाने पर थे

एफएसबी ने एक बयान में कहा, रूस में प्रतिबंधित अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के एक सदस्य की पहचान की गई है और उसे पकड़ा गया है, जो सेंट्रल एशियन रीजन का नागरिक है. भारत में सत्ताधारी खेमे में से एक प्रतिनिधि को आत्मघाती धमाके से उड़ाने की योजना बनाई थी.            NCERT Recruitment 2022 – 40 सलाहकार, वैज्ञानिक पदों पर आवेदन करें

अप्रैल-जून में दाएश नेतृत्व में से किसी के द्वारा आत्मघाती हमलावर के तौर पर तुर्की में भर्ती किया गया था.रूस में कुख्यात संगठन आईएसआईएस का एक पकड़ा गया है। आतंकी से पूछताछ में पता चला है कि वह एक आत्मघाती हमलावर है और उसकी योजना भारत में सत्ताधारी दल के एक बड़े नेता पर हमला करने की थी।

रूस की सुरक्षा एजेंसी फेडरल सिक्योरिटी सर्विस (एफएसबी) ने इस बात की जानकारी दी है। बीजेपी के नेताओं नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के द्वारा पैगंबर पर की गई टिप्पणियों के विरोध में भारत में जोरदार प्रदर्शन हुए थे और बड़ी संख्या में मुसलिम समुदाय के लोग सड़कों पर उतरे थे। नुपूर शर्मा का समर्थन करने पर उदयपुर में कन्हैया लाल और महाराष्ट्र के अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या कर दी गई थी।

एक दिन पहले ही खुफिया एजेंसियों ने पंजाब में हमले का अलर्ट जारी किया था, जिसमें बताया गया था कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने पंजाब को दहलाने की साजिश रची है.