Tuesday, May 24, 2022
Homeदेशइस साल 85 लाख टन पर पहुंच सकता है चीनी निर्यात :...

इस साल 85 लाख टन पर पहुंच सकता है चीनी निर्यात : इस्मा

देश ने 72 लाख टन चीनी निर्यात का अनुबंध

नई दिल्ली,। चीनी उद्योग के प्रमुख संगठन भारतीय चीनी मिल संघ (इस्मा) ने सोमवार को कहा कि सितंबर में समाप्त होने वाले चालू विपणन वर्ष 2021-22 में भारत का चीनी निर्यात 85 लाख टन तक पहुंच सकता है। इस्मा ने कहा कि देश ने जहां 72 लाख टन चीनी निर्यात का अनुबंध किया है, वहीं इस साल मार्च के अंत तक लगभग 56-57 लाख टन चीनी का निर्यात हुआ है। चीनी विपणन वर्ष अक्टूबर से सितंबर तक चलता है। पेराई का काम अभी भी जारी है। मार्च के अंत तक 366 मिलें चल रही थीं, जबकि 152 मिलों ने पेराई बंद कर दी थी।

2021-22 के मार्च महीने तक चीनी का उत्पादन 309.87 लाख टन

चीनी उत्पादन के ताजा आंकड़े जारी करते हुए इस्मा ने कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय व्यापार कंपनियों के आंकड़ों से पता चलता है कि वैश्विक बाजार मौजूदा सत्र में भारत से 85 लाख टन चीनी खरीदने की उम्मीद कर रहा है।’’ इस्मा के अनुसार, चालू विपणन वर्ष 2021-22 के मार्च महीने तक चीनी का उत्पादन 309.87 लाख टन तक पहुंच गया है, जो एक साल पहले की समान अवधि के 278.71 लाख टन से अधिक है। महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक देश के शीर्ष तीन चीनी उत्पादक राज्य हैं। इस्मा के आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में चीनी का उत्पादन मार्च तक बढ़कर 118.81 लाख टन हो गया, जो एक साल पहले की समान अवधि में 100.47 लाख टन था।

वाहन ईंधन में एथनॉल के 9.60 प्रतिशत सम्मिश्रण स्तर हासिल

उत्तर प्रदेश में इस साल मार्च तक चीनी का उत्पादन 87.50 लाख टन रहा है, जो एक साल पहले की समान अवधि के 93.71 लाख टन के आंकड़े से कम है। देश के तीसरे सबसे बड़े चीनी उत्पादक राज्य कर्नाटक में चीनी का उत्पादन मार्च तक बढ़कर 57.65 लाख टन हो गया, जो एक साल पहले की समान अवधि में 42.38 लाख टन था। एथनॉल के मोर्चे पर इस्मा ने कहा कि 416.33 करोड़ लीटर की आपूर्ति के लिए कुल आशय पत्र (एलओआई) के मुकाबले इस साल 27 मार्च तक 131.69 करोड़ लीटर एथनॉल की आपूर्ति की गई है। इस्मा ने कहा कि देश ने दिसंबर, 2021 से मार्च, 2022 के बीच वाहन ईंधन में एथनॉल के 9.60 प्रतिशत सम्मिश्रण स्तर हासिल किया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments