उंगली की चोट के कारण रणजी सेमीफ़ाइनल से बाहर हुए आदित्य तरे

मुंबई के विकेटकीपर बल्लेबाज़ आदित्य तरे उंगली की चोट के कारण उत्तर प्रदेश के ख़िलाफ़ रणजी ट्रॉफ़ी सेमीफ़ाइनल से बाहर हो गए हैं। तरे को उत्तराखंड के ख़िलाफ़ क्वार्टर फ़ाइनल मैच के चौथे दिन चोट लगी थी। दूसरे विकेटकीपर बल्लेबाज़ हार्दिक तमोरे, तरे की जगह ग्लब्स की ज़िम्मेदारी संभाल सकते हैं, जबकि प्रसाद पवार को उनकी जगह पर 20-सदस्यीय दल में शामिल किया गया है।

 

तमोरे ने मुंबई को इस साल अप्रैल में सीके नायडू ट्रॉफ़ी में ख़िताबी जीत दिलाई थी। वह अब तक चार प्रथम श्रेणी मैच खेल चुके हैं, जिसमें से आख़िरी मैच दो साल पहले आया था। उस मैच में तमोरे एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में खेले थे, जबकि तरे तब टीम के कप्तान थे। तरे के अनुभव और कद को देखते हुए यह चोट मुंबई के लिए एक झटका है। रणजी ट्रॉफ़ी जिताने वाले कप्तान तरे के नाम 80 प्रथम श्रेणी मैच है। मुंबई ने उत्तराखंड को रिकॉर्ड 725 रनों से हराकर रणजी सेमीफ़ाइनल में प्रवेश किया था, जिसमें तरे ने दूसरी पारी में तेज़ अर्धशतक बनाया था।