उच्च गुणवत्ता एवं तकनीक तथा हल्के प्रोस्थेटिक कृत्रिम अंग बनाने वाली इकाई शुरू

राजस्थान के उदयपुर की स्वयं सेवी संस्था नारायण सेवा संस्थान में उच्च गुणवत्तायुक्त, तकनीकी दृष्टि से मजबूत तथा वजन में हल्के प्रोस्थेटिक कृत्रिम अंग तत्काल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से दो करोड़ रूपये की लागत से सेंट्रल फेब्रिकेशन इकाई की शुरूआत की है। इस युनिट का उदघाटन अर्जुन अवार्डी पैरालंपियन दीपा मालिक ने किया।

नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने एक बयान में बताया कि अंगविहीन दिव्यांगों को निःशुल्क कृत्रिम हाथ -पैर देने वाली यह इकाई करीब दो करोड़ की लागत से रोटरी क्लब इम्यूरी ड्यूड हिल्स यूएसए एवं रोटरी क्लब उदयपुर मेवाड़ के सहयोग से संस्थान में लगी है, जो ऑटोबोक जर्मनी से आयातित है।

उन्होंने बताया कि इससे उच्च गुणवत्तायुक्त, तकनीकी दृष्टि से मजबूत तथा वजन में हल्के प्रोस्थेटिक लिंब हजारों दिव्यांगों को हर माह को उपलब्ध हो सकेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *