ओमीक्रोन बच्चों में यूएआई की दृष्टि से अधिक खतरनाक : अध्ययन

कोरोना वायरस के अन्य स्वरूपों की तुलना में ओमीक्रोन स्वरूप बच्चों में ऊपरी वायुमार्ग संक्रमण (यूएआई) की दृष्टि से अधिक खतरनाक होता है, जिससे उन्हें दिल का दौरा पड़ने और अन्य गंभीर जटिलताओं का खतरा अधिक होता है। एक अध्ययन में यह जानकारी दी गयी है।

अमेरिकी विश्वविद्यालय -यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो, नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी और स्टोनी ब्रूक यूनिवर्सिटी ने 19 वर्ष की आयु से कम उम्र के 18,849 बच्चों से संबंधित कोरोना संक्रमण के आंकड़ों का विश्लेषण किया। ये बच्चे कोविड-19 की चपेट में आने के बाद अस्पताल में भर्ती हुए थे।

संबंधित अध्ययन ‘जेएएमए पीडियाट्रिक्स’ नामक जर्नल में पिछले सप्ताह प्रकाशित हुआ है। शोधकर्ताओं ने यह पता करने के लिए अध्ययन किया है कि क्या अमेरिका में ओमीक्रोन के मामले में बढ़ने पर बच्चों में यूएआई के मामलों में बढ़ोतरी हुई थी। शोधकर्ताओं ने कहा है कि ओमीक्रोन से पहले और ओमीक्रोन की अवधि की तुलना करने पर गंभीर स्थिति वाले बाल रोगियों के अनुपात में बहुत ज्यादा अंतर नहीं था।

रिपोर्ट में लिखा गया है, ‘‘यूएआई से पीड़ित बच्चों में ऊपरी नासिका मार्ग में अवरोध के कारण दिल का दौरा पड़ने का जोखिम अधिक होता है। ऐसी स्थिति में उन्हें गहन चिकित्सा इकाइयों में उपलब्ध कराये जाने वाले इलाज की आवश्यकता होती है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *