Samadhanvani

samadhanvani

खरगोन हिंसा: पिस्तौल आपूर्ति करने का आरोपी गिरफ्तार

Untitled design 2022 05 01T235320.834

खरगोन, 30 अप्रैल । मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी पर हुई हिंसा के दौरान पुलिस अधीक्षक
(एसपी) पर गोली चलाने वाले व्यक्ति को पिस्तौल की आपूर्ति करने के आरोप में पुलिस ने एक व्यक्ति को
गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि इस व्यक्ति के अलावा हथियार बनाने में शामिल छह अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।
इनके पास से कुल 17 पिस्तौल बरामद की गई हैं।

उल्लेखनीय है कि 10 अप्रैल को रामनवमी के जुलूस के दौरान खरगोन शहर में पथराव व आगजनी के साथ
सांप्रदायिक हिंसा हुई थी जिसके बाद खरगोन में कर्फ्यू लगा दिया गया था।

हिंसा में शहर के पुलिस अधीक्षक
सिद्धार्थ चौधरी के पैर में गोली लगी थी।

गोलीबारी के आरोप में पुलिस मोहसिन उर्फ वसीम को पहले ही गिरफ्तार
कर चुकी है।

आईपीएस अधिकारी अंकित जायसवाल ने शुक्रवार रात को पत्रकारों से कहा, ‘‘खरगोन के एसपी चौधरी पर गोली
चलाने के आरोपी मोहसिन को हथियार देने वाले तूफान सिंह सिकलीगर को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके

द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर हथियार आपूर्ति करने वाले छह अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया।’’
उन्होंने कहा कि इनके पास से 17 पिस्तौल बरामद कर अवैध हथियार बनाने वाले छह कारखानों का भंडाफोड़ किया
गया है।

जायसवाल ने कहा कि ये आरोपी विभिन्न राज्यों में अवैध हथियारों की आपूर्ति में शामिल हैं। पुलिस उनके नेटवर्क
के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए पूछताछ कर रही है।

इस बीच, शनिवार को सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक खरगोन में नौ घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई।
हिंसा के बाद शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया था। हालांकि,

14 अप्रैल से स्थानीय प्रशासन हर रोज कुछ घंटों के
लिए कर्फ्यू में ढील दे रहा है।

जिला प्रशासन के आदेश के अनुसार पेट्रोल पंप और सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) की दुकानों से मिट्टी के
तेल की बिक्री के लिए कर्फ्यू में छूट लागू नहीं होगी।

कर्फ्यू में ढील की अवधि के दौरान दूध, सब्जी, दवाई आदि बेचने वाली दुकानों और नाई की दुकानें खुले रहने की
अनुमति है लेकिन धार्मिक स्थलों को बंद रखने को कहा गया है।

Copyright © All rights reserved. | Newsium by AF themes.