जनऔषधि से गरीबों को 3,800 करोड़ रुपए की बचत

नई दिल्ली, 30 अप्रैल (वेब वार्ता)। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा है कि प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना से गरीब व्यक्तियों के दवाई पर खर्च में 3800 करोड़ रुपए की बचत हुई है। श्री मांडविया ने शनिवार को यहां एक ट्वीट में यह जानकारी देते हुए कहा कि जनऔषधि संजीवनी बन रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नागरिकों को सस्ती और उत्तम दवाई उपलब्ध करवाने के लिए चलाई गयी प्रधानमंत्री जनऔषधि परियोजना’ जनता के लिए काफ़ी मददगार साबित हो रही है। इससे वित्त वर्ष 2021-22 में गरीब व्यक्ति के दवाईयों पर खर्च में 3,800 करोड़ रुपए की बचत हुई है। प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के अंतर्गत वित्त वर्ष 2021-22 में कुल बिक्री 652.67 करोड़ रूपए रही है। जन औषधि केंद्रों पर जेनेरिक दवाइयों की बिक्री होती है, जिनकी कीमत बाजार से कम होती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *