पशुपालन,डेयरी और मत्स्य पालन विभाग ने चलाया जागरुकता अभियान

नई दिल्ली, 29 अप्रैल (वेब वार्ता)। किसानों में जागरुकता के लिए पशु पालन,मत्स्य पालन और डेयरी मंत्रालय ने कृषि मंत्रालय के सहयोग से आजादी का अमृत महोत्सव के दौरान “किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी” अभियान देश भर में करीब 2000 स्थानों पर चलाया।

इस अभियान के चौथे दिन कल मत्स्य पालकों, मछुआरों तथा पशु पालन करने वाले किसानों के लिए जागरुकता अभियान चलााया गया ताकि इस संबंध में पशु पालन, मत्स्य पालन और डेयरी मंत्रालय की ओर से चलाये जा रहे योजनाओं की जानकारी उन्हें मिले जिससे वे उससे होने वाले अधिक से अधिक लाभ ले सकें।

पशुपालन, मत्स्य पालन और डेयरी मंत्री परषोत्तम रुपाला ने कार्यक्रम को ऑन लाइन सम्बोधित करते हुए कल्याण योजनाओं की जानकारी दी तथा पशु पालन और मत्स्य पालन से मिलने वाले रोजगार एवं आजीविका चलाने के महत्व पर प्रकाश डाला। इस दौरान उन्होंने विभिन्न राज्यों के किसानों के साथ बातचीत भी की तथा उनके मंत्रालय की ओर से दिए जा रहे लाभ का अधिक से अधिक फायदा उठाने का अनुरोध किया। इस दौरान पशु पालन, मत्स्य पालन और डेयरी राज्य मंत्री संजीव कुमार बालियान भी उपस्थित थे।

कार्यक्रम के दौरान पशु पालन, मत्स्य और इससे जुड़े क्षेत्रों के किसानोंं और संगठनों को प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना, मत्स्य आधारभूत विकास कोष तथा किसान क्रेडिट कार्ड से होने वाले फायदों की जानकारी दी गयी। देश भर में करीब 2000 स्थानों पर इस कार्यक्रम को प्रसारित किया गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *