Samadhanvani

samadhanvani

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के संग परीक्षा पे चर्चा करेंगे

modi 5 1

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के संग परीक्षा पे चर्चा करेंगे

प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के संग परीक्षा पे चर्चा करेंगे। केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने मंगलवार को परीक्षा पे चर्चा के छठे सीजन की घोषणा करते हुए कहा कि स्कूली छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ प्रधानमंत्री के संवाद कार्यक्रम “परीक्षा पे चर्चा 2023” का आयोजन 27 जनवरी, 2023 को नई दिल्ली के तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में किया जाएगा। आगामी बोर्ड परीक्षाओं को लेकर एक बार फिर परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम सुर्खियों में है।

पोको ने लॉन्च किया सस्ता स्मार्टफोन:6249 रुपए में मिलेगी 5000 mAh की बैटरी और 6.52 इंच की एचडी प्लस डिस्प्ले

10वीं और कक्षा 12वीं की परीक्षाएं फरवरी-मार्च में शुरू होने वाली हैं

modi 2

कई स्टेट बोर्ड समेत सीबीएसई की कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं की परीक्षाएं फरवरी-मार्च में शुरू होने वाली हैं, ऐसे में परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम का आयोजन इसी महीने किया जा रहा है। पिछले पांच वर्षों से शिक्षा मंत्रालय के स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। यह एक अनूठी इंटरएक्टिव कार्यक्रम है, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी, देश भर के छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ परीक्षाओं, स्कूल के दिनों, स्कूल के बाद के जीवन से जुड़ी रोचक बाते करते हैं।

प्रधानमंत्री छात्रों को अपने स्कूलों दिनों से जुड़ी बातें और गुरु मंत्र भी देते हैं

modi 4

इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री छात्रों को अपने स्कूलों दिनों से जुड़ी बातें और गुरु मंत्र भी देते हैं। इस कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों में बोर्ड परीक्षाओं के खौफ को कम करना है.पीपीसी में हर साल राज्य बोर्डों, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई), केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस), नवोदय विद्यालय समिति (एनवीएस) और अन्य बोर्डों से बड़ी संख्या में छात्रों, शिक्षकों और अभिभावक भाग लेते हैं। परीक्षा पे चर्चा 2023′ कार्यक्रम के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को देशभर के छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ बातचीत करेंगे।

38.80 लाख प्रतिभागियों ने अपना पंजीकरण कराया है

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने यह जानकारी दी। 50 से अधिक देशों के छात्र, 51 देशों के शिक्षक और 50 देशों के अभिभावकों ने पीएम नरेंद्र मोदी के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा -2023’ (PPC) का हिस्सा बनने के लिए अपना पंजीकरण कराया है। कुल मिलाकर लगभग 38.80 लाख प्रतिभागियों ने अपना पंजीकरण कराया है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा निर्धारित कविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए, कार्यक्रम को वर्ष 2022 की तरह टाउनहॉल के प्रारूप में प्रस्तावित किया गया है।

2022 की तुलना में इस वर्ष पंजीकरण दोगुने से अधिक हो गए हैं

modi

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक परीक्षा पे चर्चा 2023 के लिए, राज्य शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई, केवीएस, एनवीएस और अन्य बोडरें से बड़ी संख्या में छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों ने भाग लिया। वर्ष 2022 की तुलना में इस वर्ष पंजीकरण दोगुने से अधिक हो गए हैं। पीपीसी-2022 के लगभग 15.7 लाख की तुलना में लगभग 38.80 लाख प्रतिभागियों (छात्रों- 31.24 लाख, शिक्षकों- 5.60 लाख, माता-पिता- 1.95 लाख) ने पीपीसी- 2023 के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। प्रधानमंत्री के साथ इस महत्वपूर्ण संवाद कार्यक्रम में भाग लेने के लिए एक ऑनलाइन रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता आयोजित की गई थी।

पीएम ‘परीक्षा पे चर्चा 2023’ के जरिए छात्रों से यह संवाद करेंगे

रचनात्मक लेखन प्रतियोगिताओं के माध्यम से चुने गए लगभग 2050 प्रतिभागियों को एक विशेष ‘परीक्षा पे चर्चा’ किट दिया जाएगा। इसमें प्रधान मंत्री द्वारा लिखी गई पुस्तक ‘एग्जाम वारियर’ और एक प्रमाण पत्र शामिल है। एनसीईआरटी द्वारा चुने जाने वाले प्रतिभागियों के कुछ प्रश्न पीपीसी-2023 में शामिल हो सकते हैं। छात्रों में परीक्षा के तनाव व चिंता को दूर करने के लिए पीएम नरेन्द्र मोदी के ‘परीक्षा पे चर्चा 2023’ के जरिए छात्रों से यह संवाद करेंगे। पीएम का यह कार्यक्रम खासतौर पर बोर्ड परीक्षाओं के तनाव से निपटने में छात्रों की मदद करता है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए आमंत्रित कर चुके हैं

modi 1

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान इससे पहले विद्यार्थियों, शिक्षकों और अभिभावकों को परीक्षा पे चर्चा 2023 कार्यक्रम के छठे संस्करण में भाग लेने और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए आमंत्रित कर चुके हैं।
पीएम मोदी ने एक अनूठे बातचीत के कार्यक्रम- परीक्षा पर चर्चा की परिकल्पना की, जिसमें देश भर के और विदेशों से भी विद्यार्थी, माता-पिता, शिक्षक उनके साथ बातचीत करते हैं। पीएम यहां जीवन को उत्सव के रूप में मनाने के लिए परीक्षाओं से उत्पन्न होने वाले तनाव से मुक्ति प्राप्त करने के बारे में चर्चा करते हैं।

छात्रों के तनाव एवं चिंता को काफी हद तक कम करने में मदद मिलती है

modi 3

यह कार्यक्रम पिछले पांच वर्षों से शिक्षा मंत्रालय के स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा सफलतापूर्वक आयोजित किया जा रहा है। कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूली विद्यार्थियों, शिक्षकों और अभिभावकों का चयन एक ऑनलाइन रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता के माध्यम से किया जा रहा है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक इससे तनावपूर्ण समय में, असहज एवं भ्रमित करने वाले विचारों के बारे में बात करने और उन्हें साझा करने से छात्रों के तनाव एवं चिंता को काफी हद तक कम करने में मदद मिलती है।

यह छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों को अपने विचार साझा करने और पीएम से मार्गदर्शन एवं महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त करने के लिए मंच प्रदान करने का एक प्रयास है।

अंटार्कटिका पर पहले इंसानी कदम पड़े थे रोआल्ड एमंडसन के

Copyright © All rights reserved. | Newsium by AF themes.