फर्जी शैक्षिक प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी करने के आरोप में प्रधानाध्यापक निलंबित

शाहजहांपुर (उप्र), 13 अप्रैल  उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में फर्जी शैक्षिक प्रमाणपत्रों के आधार पर
नौकरी करने के आरोप में प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक को निलंबित कर दिया गया है और उनके विरुद्ध
मामला दर्ज किया गया है।

जिला अधिकारी उमेश प्रताप सिंह ने बुधवार को बताया कि थाना मिर्जापुर अंतर्गत पृथ्वीपुर गांव के एक व्यक्ति ने
त्वरित कार्य बल (एसटीएफ) से शिकायत की थी,

कि पृथ्वीपुर गांव के प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक
जसपाल ने फर्जी शैक्षिक प्रमाणपत्रों के आधार पर नौकरी प्राप्त की है

और इनके स्नातक व बीपीएड के प्रमाण पत्र
फर्जी हैं।

उन्होंने बताया कि एसटीएफ लखनऊ द्वारा मामले की जांच की गई और प्रधानाध्यापक के प्रमाणपत्र जांच में फर्जी
पाए गए तथा जांच रिपोर्ट बेसिक शिक्षा अधिकारी सुरेंद्र सिंह रावत को भेज दी गयी।

उन्होंने बताया कि इसके पश्चात फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने वाले प्रधानाध्यापक को निलंबित करते
हुए उनकी सेवा समाप्त करने की संस्तुति की गई तथा उनके विरुद्ध मिर्जापुर थाने में मामला भी दर्ज किया गया
है।

सिंह ने बताया कि आरोपी प्रधानाध्यापक ने 2010 में नौकरी हासिल की थी।

पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) संजीव बाजपेई ने बताया कि बेसिक शिक्षा अधिकारी सुरेंद्र सिंह रावत की शिकायत पर
प्रधानाध्यापक जयपाल के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया है पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *