बिजली समस्या से दो-चार हो रहे किसान व स्कूली बच्चे, भाजपा किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष ने उठायी आवाज

सेन्हा-लोहरदगा, 25 अप्रैल  बिजली की आंख मिचौली से सेन्हा प्रखंड क्षेत्र के किसान का फसल नष्ट
होने के कगार पर है,

वहीं स्कूली बच्चों के शिक्षा पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। भीषण गर्मी के मौसम में किसानों को
फसल सिंचाई के लिए काफी पानी की जरूरत होती है।

और सिंचाई करने के लिए कुएं या बोरिंग से किया जाता है।
जिसके लिए मोटर लगाना पड़ता है। और मोटर चलाने के लिए बिजली का होना निहायत जरूरी है।

इन सभी
बिंदुओं पर ध्यान आकृष्ट करते एवं किसानों की समस्या से रूबरू होते हुए

भाजपा किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष
सोमवार को उठाया आवाज सेन्हा प्रखंड क्षेत्र में बिजली की आंख मिचौली से किसानों के बीच समस्या बना हुआ है।

इसका प्रभाव स्कूली बच्चों पर भी पड़ रहा है। इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए भाजपा किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष
जितेन्द्र महतो ने सोमवार को बिजली समस्या निदान को लेकर बिजली विभाग के अधिकारी जेई सुजीत कुमार से

बात किया गया। बिजली आपूर्ति के संदर्भ में जेई ने बताया कि झारखण्ड राज्य में पावर कम मिलने के कारण
समस्या बनी हुई है।

वहीं भाजपा किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष जितेन्द्र महतो ने पावर हाउस से जायजा लेते हुए कहा
पूर्व की सरकार के समय 24 घंटा बिजली दिया जाता था।

लेकिन वर्तमान सरकार अपने वादा व नियम को ताख
पर रख बिजली आपूर्ति करवाने में असमर्थ नजर आ रही है।

बताते हुए उन्होंने कहा कोरोना काल में बच्चों का
शिक्षा बाधित हुआ अब बिजली के समस्या से बाधित हो रहा है।

जिसपर वर्तमान सरकार नजर अंदाज कर चुपी
साधे नजारा देखने का कार्य किया जा रहा है।

साथ ही कहा गया कि राज्य चलाने में गठबंधन सरकार सक्षम नही
है तो जनता की बीच किए वादा खिलाफी का माफी मांगनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *