बीएसएफ जवानों की हर तरह की सहायता कर रहे हैं प्रधानमंत्री : शाह

हिंगलगंज (पश्चिम बंगाल), 05 मई । केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुरुवार को पश्चिम बंगाल सरकार पर
कटाक्ष करते हुए कहा कि स्थानीय प्रशासन के समर्थन के बिना सीमा सुरक्षा बल के लिए तस्करी और घुसपैठ को

रोकना मुश्किल है, लेकिन उम्मीद है कि जनता के दबाव से यह सभी मदद करने के लिए मजबूर होगी।

श्री शाह ने इस दौरान विशेष रूप से सुंदरबन का उल्लेख करते हुए कहा कि इसका एक हिस्सा बंगलादेश के अधीन
है। उन्होंने कहा, “

तस्करी और घुसपैठ से इलाके को अभेद्य बनाना बीएसएफ का काम है, लेकिन स्थानीय प्रशासन
की मदद के बिना यह मुश्किल है।”

गृह मंत्री ने कहा, “लेकिन यकीन है कि यह मदद भी जल्दी ही मिलेगी, जनता से ऐसा दबाव पड़ेगा कि सभी मदद
करने के लिए मजबूर हो जाएंगे।”

इसी के साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बंगलादेश से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा के समीप उत्तर 24 परगना जिले
के हिंगलगंज में गुरुवार को छह अस्थायी बीपीओ (सीमा चौकी) का अनावरण करने के साथ ही सीमा सुरक्षा बल

(बीएसएफ) की एक एम्बुलेंस को झंडी दिखाकर रवाना किया।

उन्होंने अतिक्रमण और घुसपैठ को रोककर भारत के सीमावर्ती जिलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बीएसएफ
की सराहना करते हुए

आश्वासन दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों को सभी तरह की सहायता प्रदान कर रहे
हैं।

श्री शाह ने ट्वीट कर कहा, “मोदी सरकार सुंदरबन के इस अत्यंत चुनौतीपूर्ण क्षेत्र में पूरी सजगता से देश की रक्षा
करने वाले सीमा सुरक्षा बल के जवानों को हर मुमकिन सुविधा देने के लिए कृतसंकल्पित है।”

उन्होंने बीएसएफ की
इन फ्लोटिंग सीमा चौकियों पर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए बोट एम्बुलेंस का भी शुभारंभ किया

और कहा कि किसी
भी आपातकालीन स्थिति में ये बोट एम्बुलेंस बहुत सहायक सिद्ध होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *