बुआ का दुख सुनकर नाबालिग ने युवती पर चाकू से किए ताबड़तोड़ वार

नई दिल्ली, 28 अप्रैल  गीता कालोनी इलाके में 16 वर्षीय नाबालिग ने अपनी बुआ का दुख सुनकर
उसकी ससुराल पहुंचकर ननद पर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए। युवती अपनी जान बचाने के लिए घर में इधर

उधर भागी, लेकिन आरोपित ने उस पर हमला करना बंद नहीं किया। शोर सुनकर पड़ोसी पीडि़ता के घर में पहुंचे
और किसी तरह से आरोपित को पकड़ा।

बाद में सूचना पर पहुंची पुलिस के हवाले कर दिया। गंभीर हालत में
फरहीन को पुलिस ने लोक नायक अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

आइसीयू में
उसका इलाज चल रहा है। फरहीन के बयान पर पुलिस ने हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर आरोपित से पूछताछ
कर रही है।

फरहीन अपने परिवार के साथ आराम पार्क में रहती है। परिवार में पिता गफ्फार खान, मां, भाई व एक
भाभी है।

पीड़िता अंग्रेजी में एमए की पढ़ाई कर रही है। पीड़िता की अपनी भाभी फरजाना से बनती नहीं है, दोनों के बीच
अक्सर विवाद होते रहते हैं। करीब दस दिन पहले भी किसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ हुआ था,

इसके बाद फरजाना अपने मायके चली गई थी। आरोप है कि वहां उसने अपने भाइयों को घरेलू विवाद का दुख
सुनाया, उसका नाबालिग भतीजा इन सबके लिए उसकी ननद को जिम्मेदार मानने लगा। बुधवार दोपहर तीन बजे

पीडि़ता अपने घर में थी, एक नाकाबपोश व्यक्ति उनके घर का दरवाजा खटखटाने लगा। पीड़िता ने बालकनी से
नीचे झांका तो वह उनसे एक मकान का पता पूछने लगा।

पीड़िता ने इन्कार कर दिया। करीब पांच मिनट के बाद
वह व्यक्ति दोबारा से उनका दरवाजा खटखटाने लगा,

पीड़िता ने नीचे आकर जैसे ही दरवाजा खोला आरोपित ने
उसपर चाकू से हमला कर दिया, पीडि़ता घर में ऊपर की तरफ भागी।

आरोपित उसके पीछे पीछे ऊपर चला गया

और उसकी गर्दन, पीठ, हाथ व अन्य हिस्सों पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। शोर सुनकर पड़ोसी उसके घर में पहुंचे
और आरोपित को पकड़ लिया। उसके चेहरे से नकाब हटाया तो वह पीडि़ता की भाभी का भतीजा निकला। लोगों ने
उसे जमकर पीट दिया और बाद में पुलिस को सौंप दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *