यूपी बोर्ड की हाईस्कूल, इंटर की परीक्षा शुरू, मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं

प्रथम पाली में हाई स्कूल की परीक्षा शुरू

लखनऊ, 24 मार्च उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट
2022 परीक्षा गुरुवार से शुरू हो गयी है। दोनों कक्षाओं के 51.92 लाख परीक्षार्थी इम्तिहान दे रहे हैं। राज्य के
मुख्यमंत्री योगी ने परीक्षा में शामिल होनें वाले विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी है।

सुबह प्रथम पाली में हाई स्कूल की परीक्षा शुरू हुई। सुबह 8:00 बजे शुरू होने वाले परीक्षा में शामिल होने के लिए
परीक्षार्थियों की परीक्षा केंद्रों पर प्रवेश पत्र चेकिंग के बाद प्रवेश दिया गया।

मुख्यमंत्री योगी ने छात्रों को शुभकामनाएं दी

इस बीच मुख्यमंत्री योगी ने परीक्षा में शामिल होंने वाले छात्रों को शुभकामनाएं दी और लिखा कि प्यारे
विद्यार्थियों, यूपी बोर्ड की 10वीं व 12वीं कक्षा की परीक्षाएं आरम्भ हो रही हैं।

सभी परीक्षार्थी पूर्ण एकाग्रता के साथ
बिना किसी तनाव के परीक्षा में सम्मिलित हों।

आपका परिश्रम अवश्य फलीभूत होगा व निश्चित ही सुखद परिणाम
प्राप्त होंगे। मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

51,92,689 छात्र-छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित

प्रदेशभर में निर्धारित 8373 केंद्रों पर 51,92,689 छात्र-छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित होंगे। बोर्ड ने सभी केंद्र
व्यवस्थापकों को निर्देशित किया है कि परीक्षार्थियों से कॉपी के प्रत्येक पन्ने पर अपनी हैंडराइटिंग में कॉपी का
क्रमांक और अपना अनुक्रमांक (रोल नंबर) लिखवाना सुनिश्चित करें।

परीक्षा में मेधावी छात्रों की कॉपी बदलने की
घटनाओं को रोकने के लिए बोर्ड ने यह निर्देश दिए हैं।

इससे कॉपी या बीच के पन्ने बदलने पर पता चल जाएगा। साथ ही परीक्षा कक्ष में नक्शे, चित्र, ड्राइंग जैसी
सामग्रियों को भी हटाने के निर्देश दिए हैं।

प्रत्येक केंद्र पर शांतिपूर्ण एवं शुचितापूर्ण परीक्षा

पहले दिन गुरुवार सुबह 8 से 11.15 बजे की पाली में हाईस्कूल हिन्दी
व प्रारंभिक हिन्दी और इंटर सैन्य विज्ञान की परीक्षा होगी। जबकि 2 से 5.15 बजे की दूसरी पाली में इंटर हिन्दी
व सामान्य का पेपर होगा।

शासन ने साफ कर दिया है कि प्रत्येक केंद्र पर शांतिपूर्ण एवं शुचितापूर्ण परीक्षा कराने के लिए सुपर जोनल,
जोनल, सेक्टर व स्टैटिक मजिस्ट्रेट व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे। सभी 75 जिलों में शिक्षा विभाग के वरिष्ठ

अधिकारियों को पर्यवेक्षक के रूप में तैनात किया गया है। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कमिश्नर, पुलिस
महानिरीक्षक, डीएम,

एसएसपी, एसपी व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को परीक्षा केंद्रों के औचक निरीक्षण के निर्देश
दिए हैं।

संवेदनशील जिलों व केंद्रों की निगरानी की जिम्मेदारी एसटीएफ, एलआईयू और स्थानीय पुलिस को दी गई
है।

संगठित नकल कराने वालों पर रासुका लगाने का प्रविधान है। परीक्षाएं 12 अप्रैल तक चलेंगी। वर्ष 2021 में कोविड
संक्रमण के कारण बोर्ड की परीक्षाएं नहीं कराई गई थी,

हर कक्ष में सीसीटीवी कैमरे लगाए

सभी परीक्षार्थियों को अगली कक्षा में प्रोन्नत किया गया
था।

यूपी बोर्ड के परीक्षा केंद्रों की निगरानी के लिए हर कक्ष में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इसके अलावा वेबकास्टिंग
के माध्यम से मानीटरिंग करने के लिए डीवीआर के साथ राउटर लगे हैं।

जिला मुख्यालयों के साथ ही राज्य स्तर
पर कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां से वेबकास्टिंग के माध्यम से परीक्षा की कड़ी निगरानी होगी।

पांच सचल दस्तों का गठन किया

परीक्षा केंद्रों पर केंद्र व्यवस्थापक, कक्ष निरीक्षकों का इंतजाम पूरा हो चुका है। हर जिले में जिला प्रशासन की ओर
से जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों की नियुक्त हुई है,

जो भ्रमणशील रहकर परीक्षा को नकलविहीन कराएंगे। विभाग ने
पांच सचल दस्तों का गठन किया है।

इसके अलावा शासन व प्रशासन के उच्च अधिकारियों को नोडल अधिकारी
बनाया गया है, जो गतिविधियों पर नजर रखेंगे ओर शासन को रिपोर्ट सौंपेंगे।

Scroll to Top
यूटा सोशल मीडिया कानून का अर्थ, बच्चों को माता-पिता से अनुमोदन की आवश्यकता होती है Navratri 2023: नवरात्रि के व्रत में जरूर खाएं ये फल, नहीं होगी कमजोरी महसूस World TB Day 2023: टीबी से हर साल 4.5 लाख की मौत, 1 मरीज 15 को करता है संक्रमित, रोग को जड़ से मिटाएगी ‘STOP’ टेक्निक RSS द्वारा सामाजिक क्षेत्र की पहुंच को आगे बढ़ाने के साथ, राष्ट्रीय सेवा भारती ने अपने NGO का सबसे बड़ा मंच तैयार किया है लोगों को श्वसन स्वच्छता और Covid-19 के अनुकूल व्यवहार का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया 5 लाख रुपये से अधिक प्रीमियम वाली गैर-यूलिप बीमा पॉलिसी 1 अप्रैल, 2023 से कर योग्य होने जा रही हैं Diabetes: तनाव आपके आहार पैटर्न और जीवन के तरीके को बदल सकते हैं Jharkhand में पुलिस की छापेमारी में नवजात की ‘कुचलकर मौत’; CM ने दिए जांच के आदेश चल रहे वैश्विक बैंक संकट के बीच PSU बैंकों के सीईओ से मिलेंगी एफएम Sitharaman: रिपोर्ट Rajasthan Assembly ने स्वास्थ्य का अधिकार विधेयक पास किया: सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज, चुनिंदा निजी अस्पतालों में
यूटा सोशल मीडिया कानून का अर्थ, बच्चों को माता-पिता से अनुमोदन की आवश्यकता होती है Navratri 2023: नवरात्रि के व्रत में जरूर खाएं ये फल, नहीं होगी कमजोरी महसूस World TB Day 2023: टीबी से हर साल 4.5 लाख की मौत, 1 मरीज 15 को करता है संक्रमित, रोग को जड़ से मिटाएगी ‘STOP’ टेक्निक RSS द्वारा सामाजिक क्षेत्र की पहुंच को आगे बढ़ाने के साथ, राष्ट्रीय सेवा भारती ने अपने NGO का सबसे बड़ा मंच तैयार किया है लोगों को श्वसन स्वच्छता और Covid-19 के अनुकूल व्यवहार का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया
“उसने सैलाब की तस्वीर बना कर भेजी थी, उसी कागज से मगर नाव बना दी मैंने” : शहपर रसूल 4 स्थान सभी भारतीय परिवारों को अपनी बकेट लिस्ट में जोड़ने की आवश्यकता है 43 उम्र में भी जबरदस्त फिट हैं शिल्पा शेट्टी 5 लाख रुपये से अधिक प्रीमियम वाली गैर-यूलिप बीमा पॉलिसी 1 अप्रैल, 2023 से कर योग्य होने जा रही हैं 70 साल के ससुर ने 28 साल की बहू से की शादी 8 जुलाई को सूर्य की तरह चमकेगा इन राशियों का भाग्य Alanna Panday पांडे के प्री-वेडिंग उत्सव से अंदर की तस्वीरें: अनन्या पांडे, सुहाना खान, गौरी खान ने ग्लैमर का तड़का लगाया Amitabh Bachchan ने कहा कि उन्होंने टास्क के के लिए जाते समय रिब लिगामेंट और मांसपेशियों में चोट Android 14 डेवलपर की समीक्षा प्रेजेंट बैक मोशन, इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन में विभिन्न के लिए समर्थन लाती है Bill Gates: भारत संभवतः “विकास और रचनात्मकता” के केंद्र के रूप में विकसित हो सकता है