रामनवमी पर सभी लोग मिलकर रामराज स्थापित करने का लें संकल्प : शिवराज

रामराज स्थापित करने का लें संकल्प : शिवराज

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज रामनवमी पर यही संकल्प है कि हम सब मिलकर अपने प्रदेश का विकास करें। परहित सरस धरम नहीं भाई के आदर्शों का पालन करते हुए सभी लोग मिलकर कल्याण के काम में लगें। आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री चौहान ने आज रामनवमी पर कार्यक्रमों में भागीदारी मुख्यमंत्री निवास से प्रारंभ की। प्रात: मुख्यमंत्री निवास पर कन्याओं के पूजन और कन्या-भोज के साथ पूजा अर्चना कार्यक्रम संपन्न हुए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान और श्रीमती साधना सिंह चौहान ने बालिकाओं को प्रसाद वितरण किया। मुख्यमंत्री निवास पर राम नवमी पर भगवान राम की स्तुति में अनेक भजन गूँजे। मुख्यमंत्री ने कहा कि रामराज की कल्पना अच्छे राज्य के लिए की जाती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सुशासन और लोक कल्याणकारी राज्य की स्थापना के साथ आत्मनिर्भर भारत का निर्माण हो रहा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी गौरवशाली, वैभवशाली और समृद्ध राष्ट्र के निर्माण में लगे हैं।

मध्यप्रदेश सरकार का भी संकल्प है कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में भी रामराज की कल्पना को साकार करें। इसके लिए जन-कल्याणकारी योजनाओं के साथ विकास कार्य तेज गति से किए जा रहे हैं। साथ ही प्रदेश में दुष्टों और दुराचारियों के दमन का काम भी चल रहा है। श्री चौहान ने इस दौरान भजन भी गाये। इनमें राम नाम सुखदाई, भजन करो रे भाई, ये जीवन दो दिन का, भये प्रकट कृपाला और श्री रामचंद्र कृपालु भजमन शामिल हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *