रामनवमी हिंसा : झारखंड में हिंसा में एक की मौत, 12 घायल जबकि मप्र के खरगौन में 77 गिरफ्तार

भोपाल/अहमदाबाद/रांची, 11 अप्रैल देश के कई हिस्सों में रामनवमी के कार्यक्रमों के दौरान हिंसा देखने
को मिली। झारखंड के लोहरदगा में जहां एक व्यक्ति की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए, वहीं मध्य

प्रदेश के खरगौन में हिंसा के बाद कर्फ्यू लगाना पड़ा और पुलिस ने वहां 77 लोगों को गिरफ्तार किया है।
अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि खरगौन के पुलिस अधीक्षक (एसपी) सिद्धार्थ चौधरी को हिंसा में गोली लगी और उनके अलावा
छह पुलिसकर्मियों सहित कम से कम 24 लोग घायल हो गए। रविवार को रामनवमी के जुलूस पर पथराव और
कुछ घरों तथा वाहनों में आगजनी की घटनाओं के बाद पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।

गुजरात में आणंद जिले के खंभात में रामनवमी के जुलूस के दौरान हुई हिंसा और पथराव में संलिप्तता के आरोप
में पुलिस ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि इसी तरह की घटना के बाद साबरकांठा के हिम्मतनगर कस्बे
में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी गई है।

रामनवमी के जुलूस के दौरान इसी तरह की पथराव की घटना मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा कस्बे में
सामने आई, जिसमें एक थाना प्रभारी और पांच अन्य घायल हो गए। अधिकारियों के मुताबिक घटना के बाद
स्थिति पर काबू पा लिया गया।

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने सोमवार को आरोप लगाया कि अल्पसंख्यक समुदाय के नेताओं और वामपंथी
उदारवादियों को देश भर में रामनवमी मनाने वाले लोगों पर

‘‘हमले’’ के लिए जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए और
उनके अनुयायियों को हिंसा के मार्ग पर ले जाने के लिये उन्हें चेतावनी भी दी।

एक वीडियो संदेश में विश्व हिंदू परिषद के संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन ने रविवार को मध्य प्रदेश, गुजरात,
झारखंड और जेएनयू में हुई हिंसा को ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण’’ करार दिया

और कहा कि यह सुनिश्चित करना हर किसी की
जिम्मेदारी है कि ऐसी घटनाएं न हों।

झारखंड के लोहरदगा जिले के हिरही भोक्ता बगीचा इलाके के पास रामनवमी के अवसर पर शोभायात्रा के दौरान
हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 12 अन्य लोग घायल हो गए।

अनुमंडल अधिकारी (एसडीओ) अरविंद कुमार लाल ने बताया कि लोहरदगा शहर में इंटरनेट सेवाओं को बंद कर
दिया गया है और पूरे जिले में दण्ड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी गई है।

इस दौरान 10 मोटरसाइकिल और एक वैन में आग लगा दी गई। जिला अधिकारियों और पुलिस को स्थिति
नियंत्रित करने में करीब एक घंटा लगा।

मध्य प्रदेश में खरगौन के जिलाधिकारी अनुग्रह पी के कार्यालय से जारी आदेश के अनुसार रविवार शाम की घटना
के बाद से पूरे खरगौन शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

रविवार को जब रामनवमी का जुलूस खरगौन में तालाब
चौक इलाके से शुरू हुआ तो जुलूस पर पथराव किया गया। पुलिस को स्थिति को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस
के गोले छोड़ने पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *