वनवासी कल्याण आश्रम में सुंदरकांड का पाठ किया

गाजियाबाद, 12 अप्रैल । केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि वनवासी कल्याण आश्रम
सर्वांगीण विकास के लिए सेवारत है।

वनवासी बंधु समाज की मुख्य धारा के साथ जुड़कर राष्ट्र की सुरक्षा, एकता व
अखंडता के लिए काम करते हैं।

सीमांत क्षेत्रों में रहने वाले वनवासी बंधु राष्ट्र के प्रहरी के रूप में काम करते है,
वनवासी कल्याण आश्रम गाजियाबाद शाखा द्वारा आदिवासी क्षेत्रों में चलाए जा रहे

प्रकल्प की सहायतार्थ सुंदरकांड
के पाठ का आयोजन किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय विख्यात भजन गायक अजय याग्निक द्वारा सुंदरकांड पाठ का गायन
किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने श्री राम दरबार चित्र के समक्ष
दीप प्रज्वल्लन किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि वनवासी कल्याण आश्रम 1952 से पूरे देश में रहने वाले 11
करोड़ वनवासी बंधुओं के सर्वांगीण विकास के लिए सेवारत है।

उन्होंने इस बात पर हर्ष व्यक्त किया कि इसके
कार्यकर्ता शिक्षा के प्रकाश से अवलोकित होकर वनवासी बंधु समाज की मुख्य धारा के साथ जुड़कर राष्ट्र की सुरक्षा,
एकता व अखंडता के लिए काम करते हैं।

इस अवसर पर सेवा संस्थान की पश्चिम उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड की
मंत्री अनुराधा भाटिया ने कहा कि सभी संस्थाएं समाज के लिए अपना योगदान देती है, लेकिन कल्याण आश्रम का
कार्य सेवाएं व्यक्ति निर्माण व राष्ट्र भक्ति के रूप में अनुकरणीय व प्रशंसनीय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *