‘वर्क फ्रोम होम’ अभी कहीं नहीं जाने वाला : सिरिल

रियल एस्टेट शोध एजेंसी सिरिल ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के बाद ‘वर्क फ्रॉम होम’ (घर से काम करना) ‘वास्तविकता’ बन गया है और यह अभी कहीं नहीं जाने वाला।

सिरिल ने कहा कि अब ऐसे लचीले स्थलों की मांग बढ़ रही है जो शहरी केंद्रों में सुविधाजनक गंतव्य में स्थित हों और जहां कर्मचारियों की पहुंच सुगम हो। एजेंसी के अनुसार, अधिक कर्मचारियों के काम करने के मिश्रित विकल्प को अपनाने की संभावना के साथ कार्यलय स्थल की मांग लघु अवधि के लिए कम हो सकती है। हालांकि, को-वर्किंग और लचीले स्थलों की मांग की वजह से वाणिज्यिक और रियल एस्टेट खंड में तेजी रहेगी।

सिरिल ने कहा कि ‘वर्क फ्रॉम होम’ को काम करने के तरीके के रूप में स्वीकार किया जा रहा है।

वहीं घर से काम करने के कारण कर्मचारियों को संगठनात्मक संरचना, टीम गतिविधियों, सहयोग, बातचीत नहीं होने से हताशा, अकेलेपन और मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।