Samadhanvani

samadhanvani

कोरोना वायरस के नए केस 4 महीने में टॉप पर,- Latest News In Hindi

Untitled design 18 2

महाराष्ट्र, दिल्ली और यूपी समेत 10 राज्य बढ़ा रहे चिंता

हिंदी समाचार- देश में कोरोना वायरस के केसों में बीते कई महीनों से कमी देखने को मिल रही थी, लेकिन कुछ दिनों से यह आंकड़ा डराने वाला है। बीते एक दिन में कोरोना वायरस के 17,336 नए मामले आए हैं, जिसके साथ ही देश में एक्टिव केसों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए 88,284 तक पहुंच गई है।

वायरस

20 फरवरी के बाद कोरोना वायरस के नए केसों का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले गुरुवार को नए केसों की संख्या 13,313 ही थी। खासतौर पर महाराष्ट्र और खासतौर पर मुंबई एवं पुणे जैसे शहर एक बार फिर से कोरोना हब बनते दिख रहे हैं। बीते एक दिन में अकेले महाराष्ट्र में ही 5218 नए केस मिले हैं। इनमें भी आधे केस तो मुंबई के ही हैं। जहां बीते एक दिन में 2,479 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

             Masters/Research courses in Japanese Universities with MEXT
scholarship for officers of lndian Railways.

कोरोना वायरस के नए केसों का आंकड़ा

यह आंकड़ा इसलिए चिंता में डालने वाला है क्योंकि बुधवार को 1,648 केस ही मिले थे। ऐसे में 50 फीसदी के करीब का उछाल बढ़ती संक्रमण दर की ओर इशारा कर रहा है। मुंबई में तीन दिनों के बाद कोरोना वायरस के नए केसों का आंकड़ा 2,000 के पार पहुंचा है। राज्य में अभी 24,867 सक्रिय मामले हैं और इनमें से ज्यादातर केस मुंबई एवं उसके आसपास के उपनगरीय इलाकों में हैं।

वायरस 2

ठाणे में ही बीते कई दिनों से कोरोना के नए केसों की संख्या 1,000 से अधिक बनी हुई है। मुंबई में 7 जून से लगातार एक हजार से अधिक नए मामले पाए जा रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, कर्नाटक, यूपी, हरियाणा समेत देश के 10 राज्य चिंता की वजह बने हुए हैं। इन राज्यों में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 1,000 से अधिक बनी हुई है। इन राज्यों में तेलंगाना, गुजरात, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु भी शामिल हैं।

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के नेतृत्व में कोरोना की रिव्यू मीटिंग

बता दें कि गुरुवार को स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के नेतृत्व में कोरोना की रिव्यू मीटिंग भी हुई थी। इसमें हेल्थ मिनिस्टर ने राज्यों को सलाह दी थी कि उन्हें उन जिलों पर फोकस बढ़ाना चाहिए, जहां पॉजिटिविटी रेट ज्यादा है। इसके अलावा टेस्टिंग में इजाफा करने की भी सलाह दी गई है।

 

वायरस 3

 

                                              सेक्स वर्कर्स पर सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

Copyright © All rights reserved. | Newsium by AF themes.