मानसिक रूप से अस्थिर बेटी की मां ने बेल्ट से गला घोंटा

हॉल में बेहोश पड़ी थी वैष्णवी

पुलिस ने बताया कि घटना के बारे में कंट्रोल रूम पर सूचना मिली की बिल्डिंग में एक लड़की की आत्महत्या से मौत हो गई है। जब पुलिस घर पहुंची, तो उन्होंने देखा कि वैष्णवी हॉल में बेहोश पड़ी थी, जबकि उसके माता-पिता उसके बगल में थे। पुलिस ने उसे कपूर अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टर ने उसकी जांच की और एडमिट करने से पहले उसे मृत घोषित कर दिया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पुलिस को हुआ शक

जब डॉक्टर ने पोस्टमार्टम किया तो पुलिस को कुछ गड़बड़ होने का अंदेशा था। डॉक्टर ने कहा कि मानसिक रूप से अस्थिर व्यक्ति के लिए ऐसा कदम उठाना मुश्किल है। अंधेरी पुलिस ने तब श्रद्धा से लंबी पूछताछ की तो वह टूट गई और बाद में कबूल किया कि उसने अपनी बेटी का बेल्ट से गला घोंट दिया। घटना के समय वह घर पर अकेली थी।