प्राधिकरण
12 सितंबर को प्राधिकरण के घेराव के लिए किसानों ने शुरू किया गांव-गांव में मीटिंगों का दौरा

12 सितंबर को प्राधिकरण के घेराव के लिए किसानों ने शुरू किया गांव-गांव में मीटिंगों का दौरा

अपनी मांगे को हल ना होते देख किसानों ने अपने आंदोलन को तेज करने की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है किसान सभा के प्रवक्ता डॉक्टर रुपेश वर्मा ने बताया कि धरना दे रहे किसानों ने तय किया है की 12 सितंबर को प्राधिकरण के दोनों गेटों को बिल्कुल बंद कर दिया जाएगा और किसी को भी अंदर या बाहर नहीं आने दिया जाएगा

प्राधिकरण: मुद्दों को हल करने का समाधान

जब तक हमारे मुद्दों को हल करने का समाधान नहीं कर दिया जाएगा इसी कड़ी में हम सभी साथियों ने गांव में मीटिंगों का दौर फिर से शुरू कर दिया है और गांवो से अपील की जा रही है कि वह अपने हको के लिए ज्यादा से ज्यादा संख्या में प्राधिकरण पर पहुंचे। किसान सभा के सचिव जगदीश नंबरदार ने बताया कि हमारे मुद्दों के प्रति जनप्रतिनिधियों व प्राधिकरण का रवैया ढुलमुल है हमारे इतने अवगत कराने के बाद भी उनको किसानों के मुद्दों की गंभीरता समझ नहीं आ रही है

👉ये भी पढ़ें 👉: दक्ष नागरिक फाउंडेशन ने किया कमाल सैकड़ों बहनों को बड़े भाई का सम्मान

क्षेत्र में बातों को लेकर आक्रोश

क्षेत्र में इन बातों को लेकर आक्रोश है हम इन लोगों को चेताना चाहते हैं कि या तो यह जल्द से जल्द मुद्दों को हल करें अन्यथा किसान बड़े कदम उठाने के लिए विवश होंगे।

प्राधिकरण (1)
12 सितंबर को प्राधिकरण के घेराव के लिए किसानों ने शुरू किया गांव-गांव में मीटिंगों का दौरा

आज के धरने की अध्यक्षता जगदीश नंबरदार बादलपुर ने कि व संचालन निरंकार प्रधान सादोपुर ने किया।
महिला किसान जोगेंद्री ने कहा कि रक्षाबंधन का पावन पर्व होने के बावजूद भी हम महिलाओं ने तय किया है कि हम अपना त्यौहार धरना स्थल पर ही मनाएंगे और अपने भाइयों को यहीं पर राखी बंधेंगे हम प्राधिकरण को व जनप्रतिनिधियों को अपने अपनी पीड़ा से अवगत कराने के लिए अपना त्यौहार भी यहीं मनाएंगे।

👉ये भी पढ़ें 👉: ग्रेनो प्राधिकरण पर चल रहे धरने में 01 सितंबर को हिस्सा लेगी माकपा नेत्री

धरने की अध्यक्षता कर रहे किसान सभा के संरक्षक जगदीश नंबरदार

आज के धरने की अध्यक्षता कर रहे किसान सभा के संरक्षक जगदीश नंबरदार ने बताया कि जनप्रतिनिधियों का काम अपनी वोटो तक सीमित है वह लोगों के मध्य जब वोट मांगने के लिए आते हैं तो अच्छे-अच्छे बातें करते हैं और वादे करके जाते हैं कि आपकी समस्याएं हमारी समस्या है

परंतु वही जनप्रतिनिधि जब किसान अपनी समस्याओं को लेकर पिछले 4 महीना से सड़कों पर है तो अपने आलीशान मकानो में कुंभकर्णी नींद सोए हुए हैं हम जब तक उन्हें नींद से नहीं जाग लेते तब तक यहां से जाने वाले नहीं है।

किसान सभा के उपाध्यक्ष सूबेदार ब्रह्मपाल

किसान सभा के उपाध्यक्ष सूबेदार ब्रह्मपाल ने कहा कि प्राधिकरण पिछले 20 दिनों से हमसे बोल रहा है कि हमने आपके 17 मुद्दे हल कर दिए हैं परंतु हकीकत यह है कि अभी तक हल किए हुए मुद्दों को भी उन्होंने लागू नहीं किया है यह किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है और उनकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ हो रहा है।

👉👉:Visit: samadhan vani

प्रशांत भाटी

प्रशांत भाटी ने बताया कि प्राधिकरण पर होने वाले महापडाव के क्रम में आज हमने सुबह इटेड़ा गांव में युवाओं की मीटिंग की जिसमें बड़ी संख्या में युवाओं ने भाग लिया और अपने अधिकारों के प्रति गंभीरता दिखाते हुए संकल्प लिया कि 12 सितंबर को प्राधिकरण के घेराव में युवाओं की बहुत बड़ी भागीदारी होगी।

आज के धरने में मुख्य रूप से वीर सिंह नगर रंगीलाल भाटी अजीत सिंह चतर सिंह हरेंद्र खारी निशांत रावल रणपाल मोहित यादव अमित बुधपाल यादव अरविंद प्रधान जयवीर बाबा तिलक देवी रामचंद्र भाटी सुरेंद्र यादव आदि सैकड़ो की संख्या में किसान मौजूद रहे। भवदीय, डॉक्टर रुपेश वर्मा, प्रवक्ता अखिल भारतीय किसान सभा, गौतम बुध नगर।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.