भारत जोड़ो यात्रा में बेटे रेहान के साथ पहली बार शामिल हुईं प्रियंका

भारत जोड़ो यात्रा बीजेपी शासित मध्य प्रदेश में प्रवेश कर गई 

भारत

भारत जोड़ो यात्रा’ छह दक्षिणी और पश्चिमी राज्यों से होते हुए बीजेपी शासित मध्य प्रदेश में प्रवेश कर गई है. 3,570 किलोमीटर का पैदल मार्च राज्य में आज बोरगोन गांव से शुरू हो गया,यात्रा शुरू होकर बडोदा अहीर पहुंचेगी. यहां दोपहर में राहुल गांधी टंट्या भील को श्रद्धांजलि देंगे।   दोपहर 2.35 पर एक आदिवासी सभा का आयोजन होगा ।  इसके बाद, करीब 3 बजे ये यात्रा पंथाना – गुरुद्वारा साहिब पहुंचेगी. और शाम करीब 7-8 के बीच यात्रा रोशिया (खेरदा) में विश्राम करेगी । 

कब्ज की समस्या से हैं परेशान, तो आजमाए ये घरेलू नुस्खे

 प्रियंका गांधी वाड्रा भी भाई राहुल का साथ देती नजर आई

भारत

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में आज प्रियंका गांधी वाड्रा भी भाई राहुल का साथ देती नजर आई। कांग्रेस के उत्तर प्रदेश मामलों की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अपने पति और बेटे के साथ पहली बार इस यात्रा में शामिल हुईं। कर्नाटक में मां सोनिया गांधी यात्रा का हिस्सा बनी थीं लेकिन मध्य प्रदेश में अब प्रियंका गांधी अपने भाई राहुल गांधी का साथ देती हुई नजर आईं। मध्य प्रदेश में इस यात्रा के दूसरे दिन राहुल ने खंडवा जिले के बोरगांव से पैदल चलना शुरू किया।

पति रॉबर्ट वाड्रा और बेटे रेहान भी पैदल चलते दिखाई दिए

यात्रा में प्रियंका के साथ उनके पति रॉबर्ट वाड्रा और बेटे रेहान भी पैदल चलते दिखाई दिए।प्रियंका के यात्रा में शामिल होने के बाद कांग्रेस के उत्साहित कार्यकर्ता भाई-बहन के समर्थन में नारेबाजी करते हुए उनके करीब आने की बार-बार कोशिश करते दिखाई दिए। उन्हें सुरक्षित घेरे से दूर करने के लिए पुलिस कर्मियों को अतिरिक्त मशक्कत करनी पड़ी। बहरहाल, सूर्योदय के बाद जब बोरगांव से यात्रा ने मध्य प्रदेश में अपने दूसरे दिन में प्रवेश किया तो पहले दिन के मुकाबले भीड़ कम नजर आई, लेकिन दिन चढ़ने के साथ ही इसमें लोगों और गाड़ियों का काफिला बढ़ता गया।

सचिन पायलट भी राहुल और प्रियंका के साथ कदमताल करते दिखाई दिए

भारत

जब बोरगांव से यात्रा ने मध्य प्रदेश में अपने दूसरे दिन में प्रवेश किया तो पहले दिन के मुकाबले भीड़ कम नजर आई, लेकिन दिन चढ़ने के साथ ही इसमें लोगों और गाड़ियों का काफिला बढ़ता गया।इस बीच, राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी यात्रा में राहुल और प्रियंका के साथ कदमताल करते दिखाई दिए।5 दिसंबर को यात्रा राजस्थान में प्रवेश करने से पहले छह जिलों बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, इंदौर, उज्जैन और आगर-मालवा के 25-30 विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए मध्य प्रदेश में 399 किलोमीटर की दूरी तय करेगी । 

कांग्रेस का फोकस रूट की उन 16 विधानसभा सीटों पर

मध्य प्रदेश की पांच लोकसभा सीटें भारत जोड़ो यात्रा के मार्ग में आती हैं.कांग्रेस का फोकस रूट की उन 16 विधानसभा सीटों पर है, जिन पर फिलहाल बीजेपी का कब्जा है. पार्टी 2023 के विधानसभा चुनाव में सभी 16 सीटों पर जीत का लक्ष्य लेकर चल रही है. कांग्रेस ने राज्य में 2018 का विधानसभा चुनाव जीता था, लेकिन कमलनाथ के नेतृत्व वाली उसकी सरकार दो साल बाद गिर गई थी,बुरहानपुर के ट्रांसपोर्ट नगर में एक सार्वजनिक रैली में बोलते हुए राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की नीतियों की आलोचना की, जिसमें उन्होंने महंगाई, अग्निवीर योजना में कथित खामियों और सरकारी संस्थाओं के निजीकरण की ओर इशारा किया । 

भारत

जीएसटी  ऐसे हथियार  जिनका इस्तेमाल छोटे व्यापारियों को मारने के लिए किया : राहुल गांधी

उन्होंने संबोधन में कहा, “नोटबंदी और जीएसटी कोई नीति नहीं है, यह एक हथियार है. ये ऐसे हथियार हैं जिनका इस्तेमाल छोटे व्यापारियों, किसानों, मजदूरों और एमएसएमई को मारने के लिए किया गयानई सेना भर्ती योजना पर राहुल ने कहा, “सरकार और भारतीय सेना के बीच एक पवित्र रिश्ता था, लेकिन अब मोदी की अग्निवीर योजना ने इस रिश्ते को तोड़ दिया है. चार साल की सेवा के बाद वे बेरोजगार हो जाएंगे.भारत जोड़ो यात्रा में प्रियंका गांधी के भाग लेने पर कांग्रेस ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर की, जिसमें राहुल गांधी प्रियंका के कंधे पर हाथ रखे नजर आ रहे हैं। इस फोटो के साथ कांग्रेस ने कैप्शन में लिखा, “मजबूत होंगे कदम, जब मिलकर चलेंगे हम। 

IOCL Non-Executive Bharti 2022 | आईओसीएल गैर-कार्यकारी भर्ती Quick Apply