साउथ कोरिया और जापान में कोरोना से हालात लगातार खराब हो रहे हैं

साउथ कोरिया और जापान में कोरोना से हालात लगातार खराब हो रहे हैं

कोरोना

साउथ कोरिया और जापान में कोरोना से हालात लगातार खराब हो रहे हैं। इस बीच चीन ने उनके नागरिकों के लिए शॉर्ट टर्म वीजा जारी करने पर रोक लगा दी है। इस फैसले को चीन के बदले के तौर पर देखा जा रहा है। दरअसल, दोनों देशों ने चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण वहां के यात्रियों पर प्रतिबंध लगाए हुए हैं।इधर, कोरोना के खतरे के बीच भारत सरकार आज कोवोवैक्स को कोरोना की बूस्टर डोज के रूप में मंजूरी दे सकती है। जानकारी के मुताबिक, यह बूस्टर डोज उन लोगों को दी जाएगी, जिन्हें कोविशील्ड या कोवैक्सिन की दोनों डोज लग चुकी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के संग परीक्षा पे चर्चा करेंगे

पूर्वी एशियाई देशों पर कड़ी नजर रखने की जरूरत है

Aquarius 13

भारत में कोविड वर्किंग ग्रुप के चेयरमैन डॉ. एनके अरोड़ा ने कहा कि भारत में हम जो ओमिक्रॉन वैरिएंट देख रहे हैं, उसे दुनिया के किसी भी हिस्से में भी देखा जा सकता है। हमें घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन हमें यूरोपीय, उत्तरी अमेरिकी और पूर्वी एशियाई देशों पर कड़ी नजर रखने की जरूरत है। डॉ. अरोड़ा ने कहा कि भारत में वायरस ज्यादा है, लेकिन इसके फैलने की तीव्रता कम है। अरोड़ा के मुताबिक, देश में जीनोमिक निगरानी बढ़ा दी गई है और एयरपोर्ट्स पर यात्रियों की स्क्रीनिंग भी तेज कर दी गई है।

हमें आने वाले हफ्ते में कोई नया वैरिएंट आने की संभावना नहीं दिख रही है

सीवेज के पानी की जांच भीकी जा रही है। हमें आने वाले हफ्ते में कोई नया वैरिएंट आने की संभावना नहीं दिख रही है। मंगलवार के डेटा के अनुसार, भारत में कोरोना के 121 नए मामले सामने आए। वहीं, एक मरीज की मौत हुई। हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी 2,319 एक्टिव केस हैं। कोरोना के शुरुआती दौर से अब तक देश में 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जर्मनी, बेल्जियम और लक्जमबर्ग ने एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि अगर जरूरी नहीं है तो लोग कुछ समय के लिए चीन न जाएं।

चीन में लूनर न्यू ईयर 21 जनवरी से शुरू हो जाएगा

Aquarius 14

जर्मनी के विदेश मंत्रालय ने इस एडवाइजरी के पीछे चीन में आने वाले कोरोना पीक को बताया है। चीन में लूनर न्यू ईयर 21 जनवरी से शुरू हो जाएगा। ऐसे में अगले 40 दिन में देश में 200 करोड़ लोगों के आने-जाने की संभावना है। शंघाई के पुडौंग और हांगकियाओ एयरपोर्ट से 65 लाख लोगों के आने-जाने की संभावना जताई जा रही है। दोनों एयरपोर्ट्स से 66 हजार से ज्यादा फ्लाइट्स का संचालन होगा। पुडौंग एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स और पैसेंजर्स की संख्या जनवरी में 42% ज्यादा रहेगी। यहां हर दिन करीब एक हजार फ्लाइट्स लैंडिग और टेक-ऑफ करेंगी।

फ्लाइट्स और पैसेंजर्स की संख्या जनवरी में 46% ज्यादा रहेगी

यानी हर दिन करीब 84 हजार लोग ट्रैवल करेंगे। इधर, हांगकियाओ एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स और पैसेंजर्स की संख्या जनवरी में 46% ज्यादा रहेगी।चीन में बॉर्डर खुलने के बाद लोग बिना आइसोलेशन के यात्रा कर सकेंगे। चीन में लूनर न्यू ईयर 21 जनवरी से शुरू हो जाएगा। ऐसे में अगले 40 दिन में देश में 200 करोड़ लोगों के आने-जाने की संभावना है। महामारी की शुरुआत के बाद से चीनियों के लिए यह बिना किसी प्रतिबंध के पहला लूनर न्यू ईयर होगा। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना वैरिएंट्स की मॉनिटरिंग के लिए देश में आने वाले यात्रियों के स्वाब सैंपल कलेक्ट किए जाएंगे।

लोकल अथॉरिटी के पास सोशल गैदरिंग पर प्रतिबंध लगाने की आजादी होगी

Aquarius 18

फिर जीनोम सीक्वेंसिंग होगी। इसके अलावा लोकल अथॉरिटी के पास सोशल गैदरिंग पर प्रतिबंध लगाने की आजादी होगी। साथ ही गैर-जरूरी एक्टिविटीज सस्पेंड कर सकेंगे। एडमिनिस्ट्रेशन ऑनलाइन क्लास, वर्क फ्रॉम होम के आदेश भी दे सकेगा। चाइना कम्युनिस्ट पार्टी पर नजर रखने वाली ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट जेनिफर जेंग ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो के मुताबिक, कोरोना से मरने वालों के शवों को ट्रकों में भरकर श्मशान ले जाया जा रहा है।

ताइवान ने भी चीन से आने वालों के लिए कोविड टेस्टिंग कंपलसरी की है

चीन से आने वाले यात्रियों पर स्वीडन, जर्मनी, मलेशिया, कतर, बेल्जियम, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, मोरक्को, फ्रांस, ब्रिटेन, स्पेन, अमेरिका, जापान, इजराइल, भारत, इटली और साउथ कोरिया ने प्रतिबंध लगाए हैं। यहां चीन से आने वाले यात्रियों को नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट दिखानी होगी। मोरक्को ने तो चीन के यात्रियों को बैन ही कर दिया है। ताइवान ने भी चीन से आने वालों के लिए कोविड टेस्टिंग कंपलसरी की है। पाकिस्तान और फिलीपींस भी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। थाईलैंड और न्यूजीलैंड ने कोई भी प्रतिबंध लगाने से मना कर दिया है।

जादूनामा’ के लॉन्च पर किस्सों और ठहाकों का दौर:जावेद अख्तर ने सुनाया दिलचस्प किस्सा- एयरपोर्ट पर एक फैन उन्हें गुलजार समझकर बात करता रहा