यूपी में गुड गवर्नेंस इंडेक्स लाने की तैयारी में योगी सरकार, जानें पूरा प्लान

यूपी में सुशासन की स्थिति अब जिला स्तर पर जानी जा सकेगी। योगी सरकार जिले के हिसाब से जीडीपी तैयार कराने के बाद अब हर जिले के लिए गुड गवर्नेंस इंडेक्स लाने की तैयारी में है। इसके पता चलेगा अलगअलग सेक्टर में किस जिले की क्या स्थिति है। किस जिले ने किस तरह आगे तरक्की है या नाजुक स्थिति में है। यह अभियान शुरू करने वाला यूपी दूसरा राज्य है। इससे पहले जम्मूकश्मीर ने अपने 20 जिलों के लिए सुशासन इंडेक्स तैयार कर लिया है।

केंद्र सरकार ने इसके लिए भारतीय लोक प्रशासन की क्षेत्रीय शाखा को इसका जिम्मा दिया है। इसके लिए पहले मानक तय होंगे। इसके बाद इनके आधार पर जिलेवार आंकड़े तैयार होंगे। कृषि एवं संबंधित सेक्टर,  पर्यावरण, सामाजिक कल्याण विकास, मानव संसाधन, आर्थिक वृद्धि, नागरिक केंद्रित शासन, न्याय जनसुरक्षा, वाणिज्य उद्योग जनसुविधाएं इन सेक्टरों में मानक निर्धारित होंगे। 

केंद्र सरकार ने गुडगवर्नेंस पर जो रिपोर्ट 2020-21 जारी की है, उसके मुताबिक दस सेक्टर में 58 संकेतक पर राज्यों की परफार्मेंस आंकी गई है। वाणिज्य उद्योग के मामले में यूपी ने अपने 8 राज्यों के समूह में नंबर एक पर है। जबकि उड़ीसा को दूसरा स्थान मिला है। मानव संसाधन में यूपी अपने समूह में उड़ीसा के बाद नंबर दो है। इस समूह में अन्य राज्य बिहार, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, झारखंड, राजस्थान  मध्य  प्रदेश हैं। इसी समूह में यूपी ने अच्छा प्रदर्शन किया है। यहां प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों पर चिकित्सकों की उपलब्धता  29.81 प्रतिशत से बढ़कर 71.11 प्रतिशत हो गई।