अमेरिका के वर्जीनिया राज्य के एक 6 साल के बच्चे ने क्लास के अंदर टीचर को गोली मार दी

6 साल के बच्चे ने क्लास के अंदर टीचर को गोली मार दी

गोली

अमेरिका के वर्जीनिया राज्य से गोलीबारी का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 6 साल के बच्चे ने क्लास के अंदर टीचर को गोली मार दी। टीचर एक महिला है और उसकी उम्र 30 साल के आसपास है। फिलहाल उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बच्चे को पुलिस कस्टडी में भेजा गया है। यह घटना शनिवार को रिकनेक एलिमेंट्री स्कूल में हुई। उस वक्त क्लास में टीचर और बच्चा अकेले थे। पुलिस चीफ स्टीव ड्र्यू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि यह कोई एक्सीडेंट का मामला नहीं है। बच्चे ने जानबूझकर महिला पर गोली चलाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 जनवरी को छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के संग परीक्षा पे चर्चा करेंगे

 

उसने पूरी क्लास के सामने टीचर से हुए विवाद की वजह से किया

ऐसा उसने पूरी क्लास के सामने टीचर से हुए विवाद की वजह से किया। फिलहाल केस को हैंडल करने के लिए वकीलों की सलाह ली जा रही है। एक 6 साल के बच्चे ने शुक्रवार को अमेरिकी राज्य वर्जीनिया में अपनी टीचर को एक विवाद के दौरान पहली कक्षा के क्लासरूम के भीतर गोली मारकर घायल कर दिया। न्यूपोर्ट न्यूज शहर की पुलिस और स्कूल अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है।पुलिस ने जानकारी दी है कि रिचनेक एलीमेंट्री स्कूल में हुई गोलीबारी में कोई अन्य छात्र घायल नहीं हुआ है। 30 वर्षीय महिला टीचर को जानलेवा चोटें आई हैं।

दोपहर तक उनकी हालत में कुछ सुधार आया था

usa 3

न्यूपोर्ट न्यूज के पुलिस प्रमुख स्टीव ड्रू ने मीडिया को बताया कि दोपहर तक उनकी हालत में कुछ सुधार आया था। वर्जीनिया डिपार्टमेंट ऑफ एजुकेशन की वेबसाइट के अनुसार, रिचनेक किंडरगार्टन से पांचवी कक्षा तक के लगभग 550 छात्र हैं। स्कूल के अधिकारी पहले ही कह चुके हैं कि सोमवार को स्कूल नहीं खुलेगा। महिला टीचर को एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया और उसे डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में रखा जा रहा है। छात्र और टीचर के बीच ‘विवाद’ के बाद यह घटना पहली कक्षा के क्लासरूम में हुई।

यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ऐसा दोबारा नहीं होगा

पुलिस ने घटना में इस्तेमाल हथियार का सटीक नाम नहीं बताया लेकिन कहा कि लड़के ने पिस्तौल से हमला किया। स्कूल डिस्ट्रिक्ट हेड डॉक्टर जॉर्ज पार्कर ने कहा कि अधिकारी ‘किसी भी ऐसी घटना पर गौर कर रहे हैं जो इस हमले का कारण हो सकती है’।उन्होंने कहा, ‘यह भयानक है, ऐसा कभी नहीं होना चाहिए। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ऐसा दोबारा नहीं होगा।’ तीन दिन पहले पदभार संभालने वाले मेयर फिलिप जोन्स ने कहा कि यह गोलीबारी ‘न्यूपोर्ट न्यूज के लिए एक काला दिन’ है।

ड्र्यू ने बताया कि महिला की हालत नाजुक है

usa 2

ड्र्यू ने बताया कि महिला की हालत नाजुक है। गोली लगने के कारण उसे जो चोट आई है, वो जानलेवा साबित हो सकती है। हालांकि, उसकी स्थिति में सुधार आने की संभावना है। ड्र्यू ने बताया- हमें मिले पिछले अपडेट से पता चलता है कि महिला की हालत सुधर रही है। फायरिंग में कोई बच्चा चोटिल नहीं हुआ है। गोलीबारी के बाद स्कूल में दहशत का माहौल है। पुलिस ने बताया कि घटना में और कोई बच्चे शामिल नहीं थे। अभी इस मामले की जांच की जा रही है। इन्वेस्टिगेशन खत्म होने के बाद ही बताया जा सकेगा कि बच्चे के पास बंदूक कहां से आई और वह उसे स्कूल में कैसे लेकर आया।

रिकनेक एलिमेंट्री स्कूल को सोमवार तक के लिए बंद रखा जाएगा

रिकनेक एलिमेंट्री स्कूल को सोमवार तक के लिए बंद रखा जाएगा।ड्र्यू ने कहा- इस समय सबसे बड़ी बात यह है कि सभी बच्चे सुरक्षित हैं। यही हमारी प्राथमिकता है। न्यूपोर्ट न्यूज पब्लिक स्कूल सुपरिटेंडेंट डॉ. जॉर्ज पार्कर ने कहा- मैं इस घटना से स्तब्ध हूं। हमें ये सुनिश्चित करना होगा कि बच्चों और युवाओं के हाथ हथियार न लगें।अमेरिका में खुलेआम फायरिंग के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इससे पहले अक्टूबर 2022 में ओहायो स्टेट में एक स्कूल फुटबॉल मैच के दौरान फायरिंग हुई थी। इसमें 3 लोगों की मौत हुई थी।

फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि बच्चे के पास गन कहां से आई

usa 1

यह मुकाबला 2 स्कूल टीमों के बीच खेला जा रहा था। पुलिस ने कहा कि बच्चे के पास क्लास में एक हैंडगन थी और उन्होंने छात्र को हिरासत में ले लिया है। उन्होंने साफ किया कि यह गोलीबारी कोई ‘दुर्घटना’ नहीं थी। दक्षिणपूर्वी वर्जीनिया में स्थित न्यूपोर्ट न्यूज शहर की आबादी लगभग 1,85,000 है जो अपने शिपयार्ड के लिए जाना जाता है, जो देश के एयरक्राफ्ट कैरियर और अमेरिकी नौसेना के अन्य जहाजों का निर्माण करता है। फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि बच्चे के पास गन कहां से आई।

वहीं, मई 2022 में टेक्सास के युवाल्डे में रॉब एलिमेंट्री स्कूल में एक 18 साल के युवक ने अंधाधुंध फायरिंग की थी। इस हमले में 19 स्टूडेंट और 2 टीचर की मौत हुई थी। फायरिंग में 13 बच्चे, स्कूल के स्टाफ मेंबर्स और कुछ पुलिसवाले भी घायल हुए थे। हमलावर ने स्कूल में फायरिंग से पहले अपनी दादी को भी गोली मारी थी।

7वीं मंजिल पर आग, जिंदा जली बेटी… VIDEO:25 मिनट तक बालकनी से बचाने के लिए चिल्लाती रही, नहीं बचा सका अहमदाबाद प्रशासन