District Judge मुकेश कुमार गुप्ता सदस्य सचिव DSLSA की कानूनी जागरूकता के प्रति कटिबद्धता सराहनीय

District Judge

District Judge मुकेश कुमार गुप्ता सदस्य सचिव DSLSA की कानूनी जागरूकता के प्रति कटिबद्धता सराहनीय

District Judge

District Judge:भागीदारी जन सहयोग समिति राजधानी की एक प्रतिष्ठित एनजीओ है। प्रोफेसर के.के. अग्रवाल, गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय दिल्ली के पूर्व वाईस चांसलर, समिति के मुख्य संरक्षक हैं और ब्यूरो चीफ समाचार वार्ता विजय गौड़ समिति के चेयरपर्सन के रूप में कार्य देख रहे हैं । समिति दिल्ली राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण ( दिल्ली उच्च न्यायालय के एक निकाय ) के साथ पिछले 10 वर्षों से अधिक समय से कानूनी जागरूकता अभियान से जुडी है ।

सेवाएं प्राधिकरण

District Judge
District Judge

विजय गौड़ ने बताया कि राजधानी दिल्ली की दिल्ली राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण ( डीएसएलएसए ) के सदस्य सचिव प्राधिकरण मुकेश कुमार गुप्ता ने कार्यभार संभालते ही कानूनी जागरूकता कार्यक्रमों की कड़ी आरम्भ कर दी और प्राधिकरण के नारे न्याय सबके लिए एवं पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक न्याय के सपने को साकार करने में पूरी शक्ति लगाकर न्याय सबके लिए नारे के प्रति अपनी कटिबद्धता का परिचय दिया जो सचमुच सराहनीय है

DSLSA

कानूनी जागरूकता के क्षेत्र में उनकी उत्कृष्ट सेवाओं एवं दिल्ली के जिलों के प्राधिकरण सचिवों का कुशल नेतृत्व करने के लिए विजय गौड़ भागीदारी जन सहयोग समिति के चेयरपर्सन एवं समाचार वार्ता के ब्यूरो चीफ ने स्मृति चिन्ह भेंट कर उनका अभिनन्दन किया इस अवसर पर सिविल जज/मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेटअभिनव पांडे सचिव (मुकदमा), DSLSA की भी गरिमामय उपस्थिति थी उल्लेखनीय है कि मुकेश कुमार गुप्ता एक उत्कृष्ट विद्वान और नई चुनौतियों का दृढ़ता से सामना करने वाले बहु-प्रतिभाशाली व्यक्तित्व हैं।

District Judge
District Judge

ये भी पढ़े:Indian Consulate पर हमले की आक्रामक जांच हो रही है: एफबीआई निदेशक ने एनआईए को बताया

उन्होंने (दिल्ली विश्वविद्यालय से) कानून में मास्टर डिग्री विशेष योग्यता के साथ पूरी की है। वह 2000 में दिल्ली न्यायिक सेवा (डीजेएस) में शामिल हुए और 2010 में उन्हें दिल्ली उच्च न्यायिक सेवा (डीएचजेएस) के कैडर में पदोन्नत किया गया।एक न्यायिक अधिकारी के रूप में, उन्होंने कई उपलब्धियाँ हासिल की हैं और लगभग सभी न्यायालयों में सेवा की है।

भारत सरकार में रजिस्ट्रार जनरल

भारत सरकार में रजिस्ट्रार जनरल, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के रूप में उनका कार्यकाल सफल रहा उन्होंने भारत सरकार के विभिन्न प्रशासनिक विभागों, भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय और भारत के विभिन्न माननीय उच्च न्यायालयों के समन्वय से पर्यावरण पर दो विश्व सम्मेलन, एक राष्ट्रीय सम्मेलन और 5 क्षेत्रीय सम्मेलन भी आयोजित किए थे।

District Judge
District Judge

उन्हें प्रदूषण पर संसदीय समिति के 30 सदस्यों को संबोधित करने का एक अनूठा अवसर मिला, और वह 2018 में वायु प्रदूषण पर आयोजित अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में रिसोर्स व्यक्ति थे।वह विभिन्न सेवाकालीन विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रमों का हिस्सा रहे हैं और दिल्ली न्यायिक अकादमी के सहयोग से राष्ट्रमंडल न्यायिक शिक्षा संस्थान (सीजेईआई), कनाडा द्वारा आयोजित न्यायिक नैतिकता पर कार्यक्रम के पहले प्रतिभागियों में से एक रहे हैं।

Visit:  samadhan vani

District Judge
District Judge

अपने अविश्वसनीय रूप से व्यस्त कार्यक्रम के बावजूद, उन्होंने कई अन्य शैक्षणिक और साहित्यिक गतिविधियों में हाथ आजमाया है और नियमित रूप से योगदान देना जारी रखा है और दिल्ली जिला न्यायालयों की इन-हाउस पत्रिका “अभिव्यक्ति” का संपादन कर रहे हैं। दिल्ली राज्य कानूनी सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव के रूप में शामिल होने से पहले वह जिला न्यायाधीश (वाणिज्यिक), (डिजिटल), साकेत न्यायालय रहे हैं।वह 09.02.2023 को दिल्ली राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण में सदस्य सचिव के रूप में शामिल हुए।: विजय गौड़ ब्यूरो चीफ एवं समिति अध्यक्ष

Previous post

Shri G Kishan Reddy: सरकार भारत की समृद्ध अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सुरक्षा और उसे आगे बढ़ाने के लिए समर्पित है

Next post

तेलंगाना में Sammakka Sarakka Central Tribal University बनाने वाले केंद्रीय विश्वविद्यालय विधेयक, 2023 को राज्यसभा से मंजूरी मिल गई है

Post Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.