ब्रिटेन की लिज तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी ,15वें PM को शपथ दिलाएंगी

एकतरफा जीत हासिल नहीं कर सकीं ट्रस

ब्रिटेन की लिज तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी ,15वें PM को शपथ दिलाएंगी

ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का एलान सोमवार को हो जाएगा। कंजरवेटिव पार्टी के सदस्यों ने शुक्रवार शाम तक अपने नए नेता को चुनने के लिए वोट डाला। सोमवार को विदेश सचिव लिज ट्रस और पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक में से किसी एक को विजेता घोषित किया जाएगा। विजेता वर्तमान में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की जगह लेगा।          राहुल ने कहा देश में नफरत बढ़ा रहा महंगाई और बेरोजगारी का डर

लिज तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी। उनके पहले मार्गरेट थैचर और थेरेसा मे इस पद पर रह चुकी हैं। लिज मार्गरेट थैचर को अपना आदर्श मानती हैं।प्रधानमंत्री पद की दावेदारी में आगे बताई जा रहीं लिज ट्रस मौजूदा विदेश सचिव हैं। सरकारी स्कूल में पढ़ीं 47 साल की ट्रस के पिता गणित के प्रोफेसर और मां एक नर्स थीं। लेबर पार्टी समर्थक परिवार से आने वालीं ट्रस ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से दर्शन, राजनीति और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की।

पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कुछ समय के लिए अकाउंटेंट के रूप में भी काम किया। इसके बाद वह राजनीति में आ गईं। 2010 में ट्रस पहली बार सांसद चुनी गईं। ट्रस शुरुआत में यूरोपियन यूनियन से अलग होने के मुद्दे खिलाफ थीं। हालांकि, बाद में ब्रेक्जिट के हीरो बनकर उभरे बोरिस जॉनसन के समर्थन में आ गईं।

42 साल से सुनक का परिवार मूलत: पंजाब का रहने वाला है। 1960 के दशक में उनके माता-पिता पूर्वी अफ्रीका से आकर ब्रिटेन में बसे। उनके पिता एक सामान्य चिकित्सक थे और मां उषा फार्मासिस्ट थीं जो एक फार्मेसी चलाती थीं। सुनक की शुरुआती पढ़ाई ब्रिटेन के सबसे महंगे स्कूलों में से एक विन्चेस्टर से हुई। ट्रस की तरह सुनक ने भी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से दर्शन, राजनीति और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है।

6 सितंबर को किसिंग सेरेमनी और नए PM की शपथ

ब्रिटेन की लिज तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी ,15वें PM को शपथ दिलाएंगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिज को जीत पर बधाई दी। कहा- भरोसा है कि आपकी लीडरशिप में भारत-ब्रिटेन के रिश्ते मजबूत होंगे। दोनों देशों के बीच स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप होगी। नई रोल और जिम्मेदारी के लिए शुभकामनाएं। लिज की बहुत बड़ी जीत की भविष्यवाणी हो रही थी। नतीजे आए तो तस्वीर दूसरी नजर आई। 2001 के बाद लिज पहली ऐसी ब्रिटिश PM इलेक्ट हैं जिन्हें 60% से कम वोट मिले। लिज के खाते में 57% पार्टी मेंबर्स के वोट आए।

2019 में जब बोरिस जॉनसन प्रधानमंत्री बने तो उन्हें 66.4% वोट मिले थे ।ब्रिटेन 2005 में डेविड कैमरून को 67.6% जबकि 2001 में डंकन स्मिथ को 60.7% वोट मिले थे। थेरेसा में को कभी मेंबरशिप बैलट यानी पार्टी सदस्यों के वोट की जरूरत नहीं पड़ी, क्योंकि उनके खिलाफ चुनाव लड़ने वाली प्रत्याशी आंद्रिया लीडसॉम ने पहले राउंड के बाद हार मान ली थी।

लिज के भाई ने एक इंटरव्यू में कहा था- उन्हें बचपन से ही हार से सख्त नफरत है। मुझे याद है कि बचपन में जब हम खेलते थे तो वो कहीं हार न जाएं, इसलिए खेल के बीच से ही भाग जाती थीं। हालांकि उम्र के साथ उन्होंने कमियों को दूर किया।6 सितंबर यानी मंगलवार को जॉनसन PM हाउस 10 डाउनिंग स्ट्रीट से बतौर प्रधानमंत्री आखिरी भाषण देंगे।

भारतीय मूल के ऋषि सुनक को हराया

ब्रिटेन की लिज तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी ,15वें PM को शपथ दिलाएंगी

महारानी को इस्तीफा सौंपने के लिए स्कॉटलैंड के एबरडीनशायर रवाना होंगे। फिलहाल, क्वीन एलिजाबेथ यहीं हैं। 96 साल की क्वीन को चलने में दिक्कत है, लिहाजा जॉनसन और लिज दोनों उनके पास जाएंगे। आमतौर पर यह काम बकिंघम पैलेस में किया जाता है।लंदन के समय के मुताबिक शाम करीब 4 बजे भाषण देने के बाद प्रधानमंत्री लिज अपनी कैबिनेट की नियुक्ति करेंगीं। क्वीन मंत्रियों को जूम कॉल पर शपथ दिलाएंगी। उनके हेड ऑफ द डिपार्टमेंट मंत्रियों को ‘सील या मुहर’ सौंपने की रस्म पूरी करेंगे।                SPMCIL Manager Recruitment 2022> 37 पदों के लिए आवेदन करें

ब्रिटेन प्रधानमंत्री के तौर पर अपना आखिरी वक्तव्य देंगे। इसके बाद वह स्कॉटलैंड जाएंगे। वहां जॉनसन महारानी को अपने इस्तीफे की जानकारी देंगे। इसके बाद सुनक और ट्रस में से जो भी विजेता होगा, वह महारानी से मिलेगा। उसे महारानी द्वारा सरकार बनाने के लिए कहा जाएगा। नए प्रधानमंत्री की नियुक्ति शाही रिकॉर्ड में दर्ज की जाएगी।