Paytm निवेशकों के अच्छे दिन रॉकेट की तरह भाग रहा शेयर

Paytm Share, Rs. 1000 आज 8.80% उछला जाएगा

आज 8.80% उछला Paytm Share, Rs. 1000 पर जाएगा

Paytm Share Price: पेटीएम के शेयरों में जबरदस्त तेजी देखने को मिल रही है। आज सोमवार को पेटीएम के शेयर 8.80 फीसदी की तेजी के साथ एनएसई पर 705.05 रुपये पर बंद हुए। पिछले पांच ट्रेडिंग सेशंस में इसमें 9.54% रैली देखी गई। ग्लोबल ब्रोकरेज फर्म इस शेयर पर बुलिश हैं और इसे खरीदने की सलाह दे रहे हैं।

Paytm के शेयर 18 नवंबर 2021 को बाजार में लिस्ट हुए थे। यह अपने इश्यू प्राइस 2150 रुपये की तुलना में लिस्टिंग वाले दिन 27 फीसदी गिरकर 1564 रुपये पर बंद लिस्ट हुए थे। बता दें कि Paytm ने आईपीओ में इश्यू प्राइस 2150 रुपये रखा था। इस लेवल पर अब तक कंपनी के शेयर नहीं पहुंए पाए हैं। पेटीएम का ऑल टाइम हाई 1,961 रुपए है, जो लिस्टिंग वाले दिन गया था।

Paytm का शेयर अपने इश्यू प्राइस से शेयर करीब लगभग 65 पर्सेंट नीचे है।पेटीएम के शेयर 8.80 फीसदी की तेजी के साथ एनएसई पर 705.05 रुपये पर बंद हुए। पिछले पांच ट्रेडिंग सेशंस में इसमें 9.54% रैली देखी गई। ग्लोबल ब्रोकरेज फर्म इस शेयर पर बुलिश हैं और इसे खरीदने की सलाह दे रहे हैं।

 

गुजरात : 2002 के गोधरा कांड के दौरान ट्रेन में आग लगाने वाले रफीक भटुक को उम्रकैद1000 रुपये तक जाएगा पेटीएम स्टॉक

1000 रुपये तक जाएगा पेटीएम स्टॉक

ट्रेंडलाइन के आंकड़ों से पता चलता है कि पेटीएम पर 9 एनालिस्ट्स का औसत टारगेट प्राइस 891 रुपये है, जो मौजूदा स्तरों से 37 प्रतिशत की तेजी का संकेत दे रहा है। वैश्विक ब्रोकरेज फर्म सिटी का टारगेट प्राइस 915 रुपये है। वहीं, जेपी मॉर्गन ने Paytm के शेयरों पर ‘ओवरवेट’ रेटिंग बनाए रखी है। इसका टारगेट प्राइस 1,000 रुपये रखा है।

Paytm का आईपीओ नवंबर में आया था। कंपनी का शेयर 22 नवंबर को लिस्ट हुआ था और पहले ही दिन इसमें 27 फीसदी गिरावट आई थी। यह कभी भी अपने प्राइस बैंड 2,080-2,150 रुपये को नहीं छू पाया है। पिछले नौ दिन के गिरावट में इसमें कुल 21 फीसदी गिरावट आई थी। कंपनी के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने फ्लॉप लिस्टिंग के लिए खराब समय को जिम्मेदार ठहराया है

(Paytm Payments Bank) यूपीआई अमाउंट का सबसे बड़ी रिसीवर बनकर उभरा है। बैंक का दावा है कि वह एक महीने में 926 मिलियन से अधिक यूपीआई ट्रांजैक्शंस हासिल करने वाला देश का पहला बेनिफिशियरी बैंक है। नैशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के आंकड़ों में यह बात सामने आई है।

 

1000 रुपये तक जाएगा पेटीएम स्टॉक

इश्यू प्राइस से 65% नीचे

कंपनी के शेयर 18 नवंबर 2021 को बाजार में लिस्ट हुए थे। यह अपने इश्यू प्राइस 2150 रुपये की तुलना में लिस्टिंग वाले दिन 27 फीसदी गिरकर 1564 रुपये पर बंद लिस्ट हुए थे। बता दें कि Paytm ने आईपीओ में इश्यू प्राइस 2150 रुपये रखा था। इस लेवल पर अब तक कंपनी के शेयर नहीं पहुंए पाए हैं। पेटीएम का ऑल टाइम हाई 1,961 रुपए है, जो लिस्टिंग वाले दिन गया था। पेटीएम का शेयर अपने इश्यू प्राइस से शेयर करीब लगभग 65 पर्सेंट नीचे है।

पेटीएम का 18,300 करोड़ रुपये का आईपीओ पिछले साल नवंबर में खुला था। यह देश का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ था। इसका इश्यू प्राइस 2,150 रुपये था लेकिन यह कभी भी उसके आसपास नहीं पहुंच पाया। निवेशकों को हरेक शेयर पर करीब 1500 रुपये से अधिक का घाटा हो चुका है। पेटीएम की आईपीओ वैल्यूएशन 1.5 लाख करोड़ रुपये थी जो अब 44,000 करोड़ रुपये से भी नीचे आ गई है।

शेयरहोल्डर्स को लिखे एक पत्र में कहा कि मेरा स्टॉक ग्रांट्स तभी काम आएगा जब हमारा मार्केट कैप स्थाई रूप से आईपीओ लेवल से ऊपर चला जाएगा। पेटीएम का इश्यू प्राइस 2150 रुपये था जबकि बुधवार को कारोबार के दौरान यह 595 रुपये तक गिर गया था। फिर से इश्यू प्राइस के स्तर पर पहुंचने के लिए इसे करीब 360 फीसदी ऊपर चढ़ना होगा। शर्मा ने कहा कि कंपनी का ऑपरेटिंग एबिटा सितंबर, 2023 तिमाही में ब्रेकईवन स्तर पर पहुंच सकता है