Zomato शेयर 75% उछलकर 115 रुपये तक जा सकते हैं

Zomato शेयर

75% उछलकर 115 रुपये तक जा सकते हैं Zomato शेयर, एक्सपर्ट बुलिश

जोमैटो (Zomato) के शेयर मंगलवार को 8 फीसदी से ज्यादा लुढ़ककर 60.55 रुपये पर पहुंच गए हैं। पिछले 2 दिन में जोमैटो के शेयरों में 14 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। हालांकि, ब्रोकरेज हाउस जोमैटो के शेयरों पर बुलिश है। विदेशी ब्रोकरेज हाउस जेपी मॉर्गन  ने ब्लिंकिट (Blinkit) की डील के बाद भी जोमैटो के शेयरों पर ओवरवेट रेटिंग बनाए रखी है। ब्रोकरेज फर्म ने जोमैटो की इस डील को आकर्षक रणनीतिक कदम बताया है।जोमैटो के शेयर में दो दिनों से भले ही मुनाफावसूली देखी जा रही है

प्रेग्नेंसी अनाउंसमेंट के बाद क्यों भड़कीं आलिया भट्ट?

लेकिन घरेलू से लेकर विदेशी ब्रोकरेज हाउस निवेशकों को जोमैटो का शेयर खरीदने की सलाह दे रहे हैं. जेफ्फरीज (Jefferies) ने जोमैटो के शेयर को खरीदने की सलाह दी है. जेफ्फरीज (Jefferies) का अनुमान है कि जोमैटो का शेयर 100 रुपये तक जा सकता है. यानि मौजूदा स्तरों से शेयर 51 फीसदी का रिटर्न दे सकता है. एडलवाइज ( Edelweiss)भी शेयर को लेकर पॉजिटिव है. इस ब्रोकरेज हाउस ने 80 रुपये के टारगेट के लिए शेयर खरीदने की सलाह दी है. यानि 21 फीसदी का रिटर्न शेयर मौजूदा लेवल से दे सकता है. जेएम फाइनैंशियल  का मानना है कि शेयर 115 के सेलस को छू सकता है

जोमैटो के शेयरों को मिला 115 रुपये का टारगेट

जेपी मॉर्गन ने Zomato के शेयरों को 115 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है। यानी, मौजूदा शेयर से कंपनी के शेयरों में 75 फीसदी का उछाल आ सकता है। ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि FY23, FY24 और FY25 में जोमैटो के रेवेन्यू में क्रमशः 10 पर्सेंट, 18 और 19 पर्सेंट का उछाल आएगा। फूड डिलीवरी प्लैटफॉर्म जोमैटो ने हाल में एक्सप्रेस डिलीवरी फर्म Blinkit(पहले नाम ग्रोफर्स) को ऑल-स्टॉक डील में 4447 करोड़ रुपये में खरीदा है।विदेशी ब्रोकरेज हाउस जेपी मॉर्गन (JP Morgan) ने ब्लिंकिट (Blinkit) की डील के बाद भी जोमैटो के शेयरों पर ओवरवेट रेटिंग बनाए रखी है।

ब्रोकरेज फर्म ने जोमैटो की इस डील को आकर्षक रणनीतिक कदम बताया है। 57 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आ चुकी है। इस साल की शुरुआत में यानी 3 जनवरी 2022 को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में जोमैटो के शेयर 141.35 रुपये के स्तर पर थे। कंपनी के शेयर 28 जून 2022 को एनएसई में 60.55 रुपये के स्तर पर बंद हुए हैं। पिछले 6 महीने में जोमैटो के शेयर करीब 56 फीसदी लुढ़के हैं।

इस साल अब तक जोमैटो के शेयरों में 57% की गिरावट

जोमैटो के शेयरों में 14 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। हालांकि, ब्रोकरेज हाउस जोमैटो के शेयरों पर बुलिश है। विदेशी ब्रोकरेज हाउस जेपी मॉर्गन (JP Morgan) ने ब्लिंकिट (Blinkit) की डील के बाद भी जोमैटो के शेयरों पर ओवरवेट रेटिंग बनाए रखी है। ब्रोकरेज फर्म ने जोमैटो की इस डील को आकर्षक रणनीतिक कदम बताया है। Zomato के शेयरों को 115 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है।  जोमैटो के शेयर मंगलवार को 60.55 रुपये पर बंद हुए है जोमैटो ने 76 रुपये प्रति शेयर के रेट पर अपना आईपीओ लेकर आई थी.

Zomato के शेयर का भाव बगातार बड़ रहा था, लेकिन शुक्रवार को BlinkIt के साथ डील का ऐलान करने के बाद आज इसके शेयर में गिरावट शुरू हो गई और बीएसई पर इसका भाव छह फीसती ज्यादा टूट गया कोरोना काल में ऑनलाइन फूड कारोबार तेजी से बढ़ा है और अब ऑर्डर किए गए खाने के साथ ही अन्य घरेलू सामानों की झटपट डिलीवरी डिमांड बढ़ी है. Zomato अब इस कारोबार पर अपना फोकस बढ़ा रही है और 4,447  करोड़ रुपये में Blinkit का अधिग्रहण करने जा रही है.

Zomato अब इस कारोबार पर अपना फोकस बढ़ा रही है और 4,447  करोड़ रुपये में Blinkit का अधिग्रहण करने जा रही है. लेकिन इस डील का कंपनी के शेयरों पर बुरा असर दिखाई दे रहा है.

Recruitment of Assistant Officers in Finance Function