Homeस्वास्थ्य की खबरेंकरौंदे में है पोषक तत्वों का भंडार, जाने कैसे करना है इसका...

करौंदे में है पोषक तत्वों का भंडार, जाने कैसे करना है इसका सही इस्तेमाल

करौंदे में है पोषक तत्वों का भंडार

करौंदे

लाल-सफेद और मरून कलर का करौंदा बारिश के मौसम में खूब मिलता है। एंटीऑक्सीडेंट, एनालजेसिक, एंटी इन्फ्लेमेटरी, लिवर प्रोटेक्टिंग, ब्लड शुगर लेवल घटाने वाले एंटी हाइपरग्लाइसेमिक और कोलेस्ट्रॉल घटाने वाले हाइपोलिपिडेमिक और वुंड हीलिंग प्रोपर्टी वाले करौंदे (how to use karonda) का सेवन बारिश के मौसम में जरूर करना चाहिए।

READ THIS:- शहनाज गिल के चेहरे का उडा रंग, फैन ने कही कुछ ऐसी बात

करौंदे में पाए जाने पोषक तत्व

इसमें विटामिन सी,आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस भरपूर होता है।  इसके साथ ही अल्केलॉयड्स, फ्लेवोनॉयड्स, सेपोनिन्स, ग्लाइकोसाइड्स, फीनॉलिक कंपाउंड्स, टेनिन्स, सेलिसाइलिक एसिड पाया जाता है। Gooseberries के बीज में 10 प्रतिशत प्रोटीन, 22.4 प्रतिशत ऑयल और 72.7 प्रतिशत ओलिक एसिड भी पाया जाता है।

यहां हैं करौंदे के फायदे

करौंदे

आयुर्वेद और नेचुरोपैथ के अनुसार Gooseberries का पत्ता, जड़ और फल सभी बहुत फायदेमंद होते हैं। करौंदे के नियमित प्रयोग से कई स्वास्थ्य समस्याएं ठीक होने में मदद मिलती है।

1 पैरों के फटने में राहत

बरसात के दिनों में पैर फटने या फंगस लगने की समस्या सबसे अधिक होती है। इसमें करौंदा राहत दिलाता है।

कैसे करें प्रयोग

नियमित रूप से Gooseberries के बीजों को पीसकर पैरों में लगाने से फायदा मिलता है। कुछ दिनों में पैर फटने के कारण जो घाव बन जाते हैं, उसमें भी आराम मिलता है।

करौंदे के बीज को पीसकर तेल में पकाकर मलने से हाथ-पैर को मुलायम बनाता है।

2 बुखार, फ्लू में देता है राहत 

करौंदे

बारिश के दिनों में संक्रमित होने की संभावना अधिक होती है। इसमें Gooseberries की पत्ती लाभ पहुंचाती है।

कैसे करें प्रयोग

एक मुद्ठी करौंदा की पत्तियों को डेढ़ गिलास पानी के साथ उबालें।

आंच धीमी ही रखें।

उबालने पर जब आधा गिलास पानी जल जाए, तो छानकर काढ़ा पियें, राहत मिलेगी।

3 स्किन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं 

बारिश के मौसम में स्किन पर फुंसी, खुजली की समस्याएं होती हैं। Gooseberries में मौजूद विटामिन सी किसी भी प्रकार की स्किन प्रॉब्लम को ठीक कर देता है।

कैसे करें प्रयोग

करौंदे के पके फल को मिक्सी में पीस लें।

इसे फुंसी या खुजली के स्थान पर लगाएं। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व राहत दिलाते हैं।

4 वजन घटाने में कारगर

यदि आप वेट लॉस की योजना बना रही हैं, तो अपने आहार में करौंदे को शामिल करें। इसमें फाइबर होता है, जिससे पेट काफी देर तक भरा महसूस होता है।

कैसे करें प्रयोग

JOBS:- Delhi DSSSB TGT, PGT, Other Various Post 07/2022 Recruitment 2022 Online Form

एक मुट्ठी Gooseberries को अपने ब्रेकफास्ट या फ्रूट टाइम में शामिल करें।

करौंदे के पत्ते को उबालकर पीने से भी वजन कम होता है।

5 डायबिटीज में भी है फायदेमंद

नागपुर यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च के अनुसार, एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुणों वाला करौंदा टाइप 2 डायबिटीज मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है।

कैसे करें प्रयोग

डायबिटीज पेशेंट Gooseberries के फल को नियमित रूप से अपने आहार में शामिल करें।

Gooseberries का कच्चा फल खा सकते हैं।

आप इसकी चटनी भी बना सकती हैं।

कम तेल-मसाले वाली करौंदे की सब्जी भी खा सकती हैं।

करौंदे

6 इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है

करौंदे का इस्तेमाल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इससे बीमारियों से लड़ने की क्षमता का विकास होता है।

कैसे करें प्रयोग

कच्चा फल खाएं।

Gooseberries की चटनी खाएं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments