प्रधानमंत्री ने PMSVANidhi Scheme के 50 लाख लाभार्थियों की उपलब्धि की सराहना की

PMSVANidhi Scheme

प्रधानमंत्री ने PMSVANidhi Scheme के 50 लाख लाभार्थियों की उपलब्धि की सराहना की

प्रधानमंत्री ने PMSVANidhi Scheme के तहत 50 लाख लाभार्थियों तक पहुंचने की उपलब्धि की सराहना की है। यह योजना, जिसे प्रधान मंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि के रूप में भी जाना जाता है, उन स्ट्रीट वेंडरों का समर्थन करने के लिए जून 2020 में शुरू की गई थी, जो COVID-19 महामारी से प्रतिकूल रूप से प्रभावित हुए थे।

PMSVANidhi Scheme

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने PMSVANidhi Scheme के 50 लाख लाभार्थियों की उपलब्धि की सराहना की है। प्रधानमंत्री ने रेखांकित किया कि PMSVANidhi Scheme ने न केवल रेहड़ी-पटरी वालों का जीवन आसान बनाया है बल्कि उन्हें सम्मान के साथ जीने का अवसर भी दिया है।

प्रधान मंत्री ने आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा एक्स पर एक पोस्ट साझा करते हुए कहा;

“इस बड़ी उपलब्धि के लिए बहुत-बहुत बधाई! मुझे संतोष है कि PMSVANidhi योजना से ना सिर्फ देशभर के हमारे रेहड़ी-पटरी वालों का जीवन आसान हुआ है, बल्कि उन्हें सम्मान के साथ जीने का अवसर भी मिला है।”

PMSVANidhi Scheme
PMSVANidhi Scheme :50 लाख लाभार्थियों तक पहुंचना एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है और जरूरतमंद लोगों तक पहुंचने में योजना की सफलता को दर्शाता है।

👉ये भी पढ़े👉: 4.5 साल की लूट के बाद GEHLOT GOVERNMENT का मुफ्त बिजली देने का ऐलान:BJP का तंज

इस योजना के तहत, स्ट्रीट वेंडरों को रुपये तक का संपार्श्विक-मुक्त ऋण प्रदान किया जाता है। अपने व्यवसायों को फिर से शुरू करने के लिए 10,000। ऋण रियायती ब्याज दर पर दिए जाते हैं और इन्हें एक वर्ष के भीतर चुकाया जा सकता है। इस योजना का उद्देश्य स्ट्रीट वेंडरों को आत्मनिर्भर बनने और महामारी के आर्थिक प्रभाव से उबरने में मदद करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी

50 लाख लाभार्थियों तक पहुंचना एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है और जरूरतमंद लोगों तक पहुंचने में योजना की सफलता को दर्शाता है। प्रधान मंत्री ने योजना को लागू करने और देश भर में स्ट्रीट वेंडरों को सहायता प्रदान करने में शामिल सभी हितधारकों के प्रयासों की सराहना की है।

PMSVANidhi Scheme
PMSVANidhi Scheme: रेहड़ी-पटरी वालों को वित्तीय सहायता प्रदान की है बल्कि उनके व्यवसाय को औपचारिक बनाने में भी मदद की है।

👉ये भी पढ़े👉: PM MODI ने आज रोजगार मेले में करीब 71 हजार नियुक्ति पत्र बांटे

डिजिटल भुगतान

PMSVANidhi Scheme ने न केवल रेहड़ी-पटरी वालों को वित्तीय सहायता प्रदान की है बल्कि उनके व्यवसाय को औपचारिक बनाने में भी मदद की है। इसने उन्हें मुख्यधारा के वित्तीय संस्थानों से ऋण सुविधाओं तक पहुंचने में सक्षम बनाया है और उन्हें डिजिटल भुगतान तरीकों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया है।

👉👉 Visit: samadhan vani

कुल मिलाकर, इस चुनौतीपूर्ण समय के दौरान इस योजना ने स्ट्रीट वेंडरों को सशक्त बनाने और उनकी आजीविका का समर्थन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रेहड़ी-पटरी वालों के बीच वित्तीय सहायता प्रदान करने और आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देने पर सरकार का ध्यान सराहनीय है और इससे उनके जीवन और समग्र रूप से अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक प्रभाव पड़ने की उम्मीद है।

Post Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.