Homeदेश की खबरेंIIT:पढ़ाई से दूर भागते बच्चों के लिए IIT रुड़की एलुमनाई ने देश...

IIT:पढ़ाई से दूर भागते बच्चों के लिए IIT रुड़की एलुमनाई ने देश के जाने-माने वैज्ञानिकों के साथ मिलकर कर दी बड़ी रिसर्च

महत्वपूर्ण सम्मेलन

नई दिल्ली : IIT देश की राजधानी दिल्ली में संसद भवन के पास कांस्टीट्यूशन क्लब ऑफ इण्डिया में अति महत्वपूर्ण सम्मेलन हुआ जिसमें व्यक्ति के मन को एकाग्र कर उसकी बुद्धि-लब्धि को बढ़ाने की कला के विषय में जानकारी दी गई। आज के युग में भाग-दौड़ भरी जिंदगी में व्यक्ति बेहद तनाव में जी रहा है।

IIT
IIT

जिस कारण उसके शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। लोगों के अंदर मानसिक तनाव इस स्तर का पनप रहा है कि लोग आत्महत्या कर रहे हैं। एक आंकड़े के अनुसार इतने लोग किसी युद्ध अथवा महामारी से नहीं मारे जा रहे हैं जितने आत्महत्या के कारण मारे जा रहे हैं।

IIT एलुमनाई

IIT
IIT

इस वैश्विक गंभीर समस्या को लेकर कई विश्व स्तरीय मनोवैज्ञानिकों व IIT एलुमनाई ने ब्रेन रिकोडिंग कंपनी बनाकर लोगों के मन को एकाग्र कर उनके मानसिक स्वास्थ्य में उन्नति कर उनके आईक्यू लेवल को बढ़ाकर उनके कार्य दक्षता एवं जीवन को कुशल बनाने का कार्य किया जा रहा है।

ये भी पढ़े:Google Play movies और टीवी इस तिथि के बाद बंद हो जाएंगे: याद रखने योग्य मुख्य बातें

प्राचीन भारतीय गुरुकुल

इस सब प्राचीन भारतीय गुरुकुल पद्धति को नए वैज्ञानिक विधि द्वारा बच्चों व बड़ों को इसके ज्ञान से अवगत कराने हेतु इस सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में प्रेस कॉन्फ्रेंस भी आयोजित की गई जिसमें देश भर के सभी छोटे बडे न्यूज चैनल व प्रिंट मीडिया के पत्रकार बंधु उपस्थित रहे ।

Visit:  samadhan vani

IIT
IIT

इस मौके पर प्रसिद्ध वैदिक गणितज्ञ मनु त्रिपाठी ने स्मरण शक्ति के विकास की बात बताई, गजेंद्र सिंह आईआईटी एलुमनाई ने बच्चों को तेज गति से सीखने की कला के विषय में बताया, अध्यात्मिक प्रेरक रवि चौधरी ने बच्चों व बडों को अध्यात्मिक ध्यान द्वारा मानसिक सबल बनाने व मानव निर्माण के विषय में जानकारी दी ।

वंदना ठाकुर दिल्ली

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Most Popular

Recent Comments