iPhone 14 के क्रैश डिटेक्शन फीचर की वजह से 2 लोगों की जान बचा ली गई

iPhone 14 के क्रैश डिटेक्शन फीचर ने 2 लोगों की जान बचा ली

iPhone 14

iPhone 14 के क्रैश डिटेक्शन फीचर की वजह से 300 फीट गहरी खाई में गिरने के बाद 2 लोगों की जान बचा ली गई। इस फीचर ने हादसे के बाद इमरजेंसी सेवाओं को अलर्ट कर दिया था, जिससे समय रहते रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंच गई और दोनों को समय पर अस्पताल पहुंचा दिया गया।बुधवार को कैलिफोर्निया के एंजेल्स फॉरेस्ट हाईवे पर एक कार हादसे का शिकार हो गई और करीब 300 फीट गहरी खाई में जा गिरी। कार में दो लोग सवार थे। जिस वक्त यह एक्सीडेंट हुआ, उस वक्त कार ड्राइव कर रही महिला अपने पति से फोन पर बात कर रही थी।

दोषी अस्पतालों एवं विद्यालयों के प्राधिकरणों के द्वारा पट्टा अभिलेख आवंटन निरस्त किया जाएं

iPhone 14 से क्रैश डिटेक्शन फीचर की मदद से नोटिफिकेशन आया

इस दौरान पति ने अपनी पत्नी के चीखने की आवाज सुनी और तभी कॉल लाइन डेड हो गई। कुछ ही सेकंड में पति को पत्नी के iPhone 14 से क्रैश डिटेक्शन फीचर की मदद से नोटिफिकेशन आया और एक्सीडेंट की जानकारी कन्फर्म हुई।इस नोटिफिकेशन में हादसे की सटीक लोकेशन भी भेजी गई थी। इतना ही नहीं, उनकी पत्नी के आईफोन में मौजूद इमरजेंसी फीचर ने पास के पैरामेडिक सर्विस को भी कॉल करके हादसे की खबर दे दी थी।इससे समय रहते रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और हादसे में शिकार दोनों लोगों की जान बच गई।

दोनों का स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है

से ईडी ने उसकी पत्नी अफ्शा अंसारी के बारे में पूछताछ की। 7

 

दोनों का स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है।रेस्क्यू वीडियो वायरल हो रहा है। पति ने अपनी पोस्ट में लिखा कि जानकारी मिलते ही वे समय से हादसे वाली जगह पर पहुंचे। तब तक वहां एंबुलेंस नहीं पहुंची थी। वहां जाने पर पता चला कि सामने से आ रही एक कार ने डिवाइडर को क्रॉस करके उनकी पत्नी की कार को सामने से टक्कर मार दी थी।अपनी इस पोस्ट के अंत में पति ने लिखा कि मैं आईफोन 14 के क्रैश डिटेक्शन फीचर की जितनी भी तारीफ करूं कम है।आईफोन 14 में इमरजेंसी फीचर ने पहाड़ से नीचे गिरे कपल की जान बचा ली है।

Montrose Research and Rescue Team ने ट्विटर पर जानकारी दी

इसके बारे में Montrose Research and Rescue Team की ओर से ट्विटर पर एक ट्विट कर घटना की जानकारी दी।उन्होंने बताया कि अमेरिका के कैलिफोर्निया में एंजिल्स फॉरेस्ट हाईवे से पति-पत्नी कार से जा रहे थे और उनकी कार पहाड़ से 300 फीट नीचे जा गिरी।कार का पहाड़ी में फंसना कपल के जिंदगी और मौत से लड़ने जैसा था। ऐसे में उनके फोन में नेटवर्क भी नहीं था, जिससे कि किसी को मदद के लिए बुलाया जा सके लेकिन iPhone 14 की मदद से वो बच गए।दरअसल, आईफोन 14 के क्रैश डिटेक्शन फीचर की मदद पति-पत्नी बच गए हैं।

इसे सैटेलाइट एसओएस फीचर कहा जाता है

से ईडी ने उसकी पत्नी अफ्शा अंसारी के बारे में पूछताछ की। 8

 

इस फीचर का काम क्रैश डिटेक्ट करना है थोड़ी सी भनक होने पर ये फीचर अपना काम करते हुए इमरजेंसी नंबर से कॉन्टेक्ट करने के साथ मदद के लिए बुलाता है, जिसे सैटेलाइट एसओएस फीचर भी कहा जाता है।इस सैटेलाइट सर्विस के जरिए आपातकालीन SOS ने बचाव दल से संपर्क कर पहाड़ से गिरे पति-पत्नी की मदद की। बता दें, iPhone 14 सीरीज में क्रैश डिटेक्शन फीचर है, जो डिटेक्ट करता है कि आपकी गाड़ी का हादसा हुआ है या नहीं। यह इमरजेंसी नंबर से कॉन्टेक्ट करता है और हेल्प के लिए बुलाता है। इसे सैटेलाइट एसओएस फीचर कहा जाता है।

हादसे के समय iPhone में नेटवर्क नहीं था

हादसे के समय iPhone में नेटवर्क नहीं था। इसलिए सैटेलाइट सेवा के माध्यम से आपातकालीन SOS ने बचाव दल से संपर्क करने में मदद की। सैटेलाइट फीचर ने ऐप्पल रिले सेंटर में मैसेज किया और फिर L.A काउंटी शेरिफ डिपार्टमेंट को कॉल किया गया। रेस्क्यू ऑपरेशन का वीडियो भी ट्वीट किया गया है। Apple ने लोगों की लाइफ को आसान कर दिया है. ऐप्पल कई ऐसे प्रोडक्ट्स आते हैं, जिसमें लाइफ सेविंग फीचर मिलता है। पहले तक कंपनी Apple Watch में SOS मिलता था, लेकिन अब iPhone 14 में भी इस फीचर को जोड़ा गया है।

यह फीचर फ्रंट इंपैक्ट, साइड इंपैक्ट की पहचान कर सकता है

से ईडी ने उसकी पत्नी अफ्शा अंसारी के बारे में पूछताछ की। 6

फीचर के आते ही एक खबर आई है,जिसने लोगों के चेहरों पर मुस्कान ला दी है। फोन में मिल रहे इमरजेंसी फीचर ने एक कपल की जान बचा ली है।पहाड़ी से नीचे गिरने के बाद फोन ने इस तरह बचाई उनकी जानयह फीचर iPhone 14 और iPhone 14 Pro में मौजूद है। इसके अलावा एपल वॉच की सीरीज 8, SE (सेकंड जनरेशन), Ultra और watch OS के नए वर्जन में भी यह फीचर है। यह फीचर फ्रंट इंपैक्ट, साइड इंपैक्ट, रियर-एंड रोल ओवर कोलिजन की पहचान कर सकता है।

एक्सीडेंट होने पर क्रैश डिटेक्शन फीचर के माध्यम से डिवाइज इसे डिटेक्ट कर लेगा और ऑटोमैटिकली इमरजेंसी सर्विस को हादसे की जानकारी लोकेशन के साथ 20 सेकंड के बाद भेज देगा।इसकी मदद से अगर यूजर्स होश में नहीं है तो भी इसकी जानकारी किसी ऑथोरिटी को मिल जाएगी। इसके अलावा फैमिली मैंबर्स को भी इसकी जानकारी भेज दी जाएगी।

नीतीश बोले- शराब पीकर मरेंगे तो क्या मुआवजा देंगे:विधानसभा में मांग उठी तो कहा- एक पैसा नहीं देंगे; मौतों का आंकड़ा 65 हुआ