चीन ताइवान के खिलाफ मिलिट्री ड्रिल ताइपे ने कहा- हम जंग के लिए तैयार

चीन ताइवान के खिलाफ मिलिट्री

ताइवान के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पेलोसी के ताइवान से लौटते ही चीन और एग्रेसिव हो गया है। गुरुवार से चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने ताइवान के ईदगिर्द 6 इलाकों में सैन्य अभ्यास शुरू किया है। उपराष्ट्रपति चुनाव में भी मायावती विपक्ष के खिलाफ, जगदीप धनखड़ को वोट देगी बीएसपी 

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि PLA ने ताइवान के उत्तर-पूर्व और दक्षिण-पश्चिमी तट के पास 11 डोंगफेंग बैलिस्टिक मिसाइलें दागी हैं। वहीं, ताइवान ने कहा है कि हम जंग नहीं चाहते लेकिन इसके लिए तैयार रहेंगे। ताइवान आने-जाने वाली करीब 50 इंटरनेशनल फ्लाइट्स को कैंसिल कर दिया गया है।

चीन ने इस मिलिट्री एक्सरसाइज को ‘लाइव फाइरिंग’ नाम दिया है।  यह मिलिट्री ड्रिल ताइवानी तट से सिर्फ 16 किमी दूर की जा रही है। इसमें असली हथियारों और गोला-बारूद का इस्तेमाल किया जा रहा है।7 अगस्त तक चलेगी। पहले यह ड्रिल ताइवान से करीब 100 किमी दूर करता था। लेकिन नैंसी के दौरे के बाद अब बेहद नजदीक पहुंच गया है।

ईस्टर्न थिएटर कमांड के प्रवक्ता सीनियर कर्नल शी यी ने कहा- लंबी दूरी तक मार करने वाले हथियारों की टेस्टिंग की जाएगी। मिसाइल का भी टेस्ट होगा। उधर, ताइपे ने कहा कि वह चीन की हर हरकत पर नजर रखे हैं।
ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा- हम किसी तरह का तनाव नहीं चाहते।

देश ऐसी स्थिति के खिलाफ है, जिससे विवाद पैदा हो। हम जंग नहीं चाहते लेकिन जंग के लिए तैयार रहेंगे।ताइवान के आस-पास समुद्र में मिलिट्री ड्रिल कर रहा है। ये इलाका काफी बिजी शिपिंग रूट है। इसी रास्ते से सेमीकंडक्टर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक इक्यिपमेंट्स दुनियाभर में भेजे जाते हैं। नैचुरल गैस सप्लाई के लिए भी ये सी-रूट महत्वपूर्ण है। दुनिया के लगभग आधी कंटेनर शिप इसी रास्ते से निकलती हैं। ऐसे में चीन के यहां मिलिट्री एक्सरसाइज करने से शिप को आने-जाने से रोका जा सकता है।

चीन ताइवान के खिलाफ मिलिट्री

नैंसी पेलोसी के ताइवान से लौटते ही 3 अगस्त को चीन के 27 फाइटर जेट्स ताइवान के एयर डिफेंस जोन में घुस गए थे।US और चीन के बीच तनाव बना हुआ था। चीन अमेरिका को धमकी दे रहा था। वो नहीं चाहता था कि पेलोसी ताइवान का दौरा करें। इसी बीच 2 अगस्त को नैंसी ताइवान पहुंच गईं।

ताइवान की तरफ गया तो वो उस पर हमला कर देगा। इस धमकी के बाद अमेरिकी नेवी और एयरफोर्स के 24 एडवांस्ड फाइटर जेट्स ने नैंसी के प्लेन को एस्कॉर्ट किया था।चीन ने ताइवान के पास अपने सैन्‍य अभ्‍यास को तेज कर दिया है. सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दावा किया है कि इसमें पीएलए के फाइटर जेट भी हिस्‍सा ले रहे हैं.

पीएलए के सैन्‍य अभ्‍यास से ताइवान के बड़े बंदरगाहों और जहाजी रास्‍ते को खतरा पैदा हो सकता है. चीनी विशेषज्ञ ने दावा किया कि यह चीन के भविष्‍य में ताइवान को अपने कब्‍जे में लेने की दिशा में एक संभावित कदम हो सकता है. इस बीच चीन ने धमकी दी है कि वह ताइवान के हवाई क्षेत्र को पूरी तरह से बंद कर रहा है.

ताइवान को समुद्री रास्‍तों से भी काट रहा है. ताइवान की जमीन से मात्र 9 मील की दूरी पर अभ्‍यास कर रहा है. चीन के फाइटर जेट अब ताइवान की ओर उड़ान भरने लगे हैं. ग्‍लोबल टाइम्‍स ने इसका वीडियो जारी करके धमकाने की कोशिश की है IRCTC Delhi Jobs Recruitment 2022 for Joint General Manager/ Deputy GM

6 तरफ से ताइवान को घेरने की कोशिश कर रहा है. उसने 4 से 7 अगस्‍त मिसाइलों के परीक्षण का ऐलान किया है. ताइवान ने भी खतरे को देखते हुए लेवल-2 का अलर्ट जारी कर दिया है. यही नहीं चीन के वीडियो के जवाब में ताइवान ने भी वीडियो जारी कर  मुकाबले की तैयारी को दिखाया है. वहीं, दो ऐसी जगहों से अभ्‍यास करने जा रहा है जो जापानी इलाके में आता है जिसका टोक्‍यो ने विरोध किया है.