किसान व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूरों और किसानों का संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन दिल्ली में हुआ

जन विरोधी

किसान व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूरों और किसानों का संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन दिल्ली में हुआ

सरकार की मजदूर- किसान व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूरों और किसानों का संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन दिल्ली में हुआ संपन्न- गंगेश्वर दत्त शर्मा

गौतम बुध नगर, सरकार की मजदूर- किसान व जन विरोधी, राष्ट्र विरोधी विनाशकारी नीतियों के खिलाफ केंद्रीय ट्रेड यूनियनों/ फेडरेशनों/एसोसिएशनों और संयुक्त किसान मोर्चा के संयुक्त आह्वान पर 24 अगस्त 2023 को ताल कटोरा स्टेडियम नई दिल्ली पर मजदूरों और किसानों का अखिल भारतीय संयुक्त सम्मेलन खेती बचाओ, रोजगार बचाओ, देश बचाओ, मोदी सरकार हटाओ के जोरदार नारों के साथ संपन्न हुआ।

👉ये भी पढ़ें 👉:सूचना/ आमंत्रण पत्र: किसान मजदूर राष्ट्रीय सम्मेलन

जन विरोधी : नोएडा व ग्रेटर नोएडा

जन विरोधी
किसान व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूरों और किसानों का संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन दिल्ली में हुआ

सम्मेलन में नोएडा व ग्रेटर नोएडा से सीटू नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा, रामसागर, राम स्वास्थ्य के नेतृत्व में दर्जनों मजदूर प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया तथा अखिल भारतीय किसान सभा गौतमबुद्धनगर के नेता अजी पाल भाटी, अजब सिंह नेताजी, मुकुल यादव, रमेश प्रधान, प्रवीण भाटी तिलक देवी, गीता भाटी, रीना भाटी, जोगेन्दी के नेतृत्व में सैकड़ो किसानों के प्रतिनिधियों ने सम्मेलन में हिस्सेदारी किया।

👉ये भी पढ़ें 👉:आज किसान सभा के दिन रात के धरने का ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण पर 99 वां दिन रहा

सम्मेलन में हिस्सा ले रहे सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा

जन विरोधी : सम्मेलन में हिस्सा ले रहे सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने बताया कि सम्मेलन में देश के सभी राज्यों/ जिलों से बड़ी संख्या में मजदूरों- किसानों के प्रतिनिधि ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। सम्मेलन में सरकार की विनाशकारी नीतियों से लोगों और उनकी आजीविका को बचाने के लिए देशव्यापी संयुक्त कार्यक्रम घोषित किया गया

जन विरोधी
किसान व जन विरोधी नीतियों के खिलाफ मजदूरों और किसानों का संयुक्त राष्ट्रीय सम्मेलन दिल्ली में हुआ

👉 👉:  Visit: samadhan vani

किसान नरसंहार के साजिश कर्ता गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी

जिसके तहत 3 अक्टूबर 2023 को लखीमपुर खीरी में किसान नरसंहार के साजिश कर्ता गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने और मुकदमा चलाने की मांग पर पूरे देश में काला दिवस के रूप में मनाया जाएगा व 26 से 28 नवंबर 2023 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की राजधानियों/ जिला मुख्यालय के सामने दिन-रात का महा पड़ाव का आयोजन किया जाएगा और दिसंबर या जनवरी में देशव्यापी बड़ी विरोध कार्रवाइयों का आयोजन होंगा।

Post Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.